ofloxacin tablet uses in hindi
ofloxacin tablet uses in hindi

ofloxacin tablet uses in hindi यह एक एंटीबायोटिक वर्ग की दवा है जो डीएनए गाइरेज़ और टोपोआइसोमेरेज़ ४ एंजाइमों पर कार्य करता है, और बैक्टेरियल प्रतिलेखन के दौरान डीएनए के अत्यधिक सुपरकोइलिंग को रोकता है. यह दवा उनके कार्य को बाधित करके बक्टेरिया के विभाजन को रोकती है.

MIMS के अनुसार ओफ्लोक्सासिन टैबलेट का उपयोग निम्न बिमारियों और बैक्टेरियल संक्रमणों में किया जाता है. (Ofloxacin Tablet Uses in Hindi)

  1. मूत्रमार्ग का संक्रमण
  2. प्रमेह या गोनोरिया
  3. निमोनिया
  4. प्रोस्टेटाइटिस
  5. क्रोनिक ब्रोंकाइटिस
  6. त्वचा और कोमल ऊतकों में संक्रमण
  7. मूत्राशयशोध
  8. श्रोणि सूजन की बीमारी
  9. लोअर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन
  10. मध्यकर्णशोथ

Combination Of Ofloxacin Tablet In Hindi

  • ofloxacin and metronidazole suspension,
  • ofloxacin and ornidazole tablets,
  • cefixime and ofloxacin tablets
  • cefpodoxime and ofloxacin tablets
  • itraconazole ofloxacin ornidazole clobetasol propionate cream
  • ofloxacin and dexamethasone eye drops

Mehanism Of Action Of Ofloxacin Tablet In Hindi – ओफ्लोक्सासिन टैबलेट कैसे काम करता है

ओफ़्लॉक्सासिन टैबलेट फ़्लोरोक्वीनोलोन वर्ग की एंटीबायोटिक दवा है जिसका उपयोग कई ग्राम-पॉजिटिव और ग्राम-नेगेटिव जीवाणु संक्रमण के उपचार में किया जाता है.

यह बैक्टीरियल टोपोइज़ोमेरेज़ II (डीएनए गाइरेज़) को बांधकर और बाधित करके काम करता है, एक एंजाइम जो सुपरकोल्ड डीएनए को आराम देता है, और टोपोइज़ोमेरेज़ IV, एंजाइम जो प्रतिकृति के बाद जुड़े गुणसूत्रों को अलग करता है.

ये निरोधात्मक प्रभाव डीएनए प्रतिकृति, प्रतिलेखन और मरम्मत को बाधित करते हैं, जिससे जीवाणु कोशिकाओं में कोशिका विभाजन को रोका जा सकता है. Source

इस तरह ओफ्लोक्सासिन टैबलेट शरीर में बैक्टेरिया को मारकर संक्रमण से राहत दिलाता है.

Ofloxacin Tablet Uses in Hindi

1. मूत्रमार्ग का संक्रमण

यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (यूटीआई) यानि की मूत्रमार्ग का संक्रमण आपके यूरिनरी सिस्टम के किसी भी हिस्से में होने वाला संक्रमण है. यह आपके गुर्दे, मूत्रवाहिनी, मूत्राशय, मूत्रमार्ग में होता हैं. अधिकांश संक्रमणों में निचला मूत्र पथ शामिल होता है – मूत्राशय और मूत्रमार्ग.

पुरुषों की तुलना में महिलाओं में यूटीआई होने का खतरा अधिक होता है, आमतौर पर यह आपके मूत्राशय तक सीमित संक्रमण दर्दनाक और कष्टप्रद होता है. लेकिन, यह आपके गुर्दे में भी फ़ैल सकता है और इसके परिणाम गंभीर हो सकते हैं.

यूटीआई में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की खुराक और उपयोग

वयस्क: ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 200 मिलीग्राम हर 12 घंटे 10 दिनों के लिए, या वैकल्पिक रूप से, ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 200 मिलीग्राम दिन में दो बार, 7-21 दिनों के लिए लीजिए, गंभीरता के अनुसार ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की मात्रा 400 मिलीग्राम तक बढ़ाई जा सकती है. Reference

Effectiveness Of Ofloxacin in Urinary Tract Infection

इस अध्ययन में 50 प्रीमेनोपॉज़ल महिलाओं को मूत्र पथ के संक्रमण के इलाज के लिए 100 मिलीग्राम ओफ़्लॉक्सासिन की एकल खुराक के साथ इलाज किया गया था.

४७ महिलाओं (94%) को उपचार के तीन दिन बाद चिकित्सकीय और सूक्ष्मजैविक रूप से ठीक पाया गया और २८ दिनों के बाद चेकअप ने खुलासा किया कि ४३ (८६%) महिलाए लक्षणों से मुक्त थी और ४० (८०%) में मूत्र पथ का संक्रमण नहीं था.

इस अध्ययन से पता चलता है कि ओफ़्लॉक्सासिन टैबलेट की एक खुराक युवा महिलाओं में जटिल यूटीआई के उपचार के लिए प्रभावी है।

J Antimicrob Chemother. 1988 Dec;22(6):945-9.

2. प्रमेह या गोनोरिया

गोनोरिया, एक बैक्टेरियल/जीवाणु संक्रमण होता है, जो संक्रमित व्यक्ति के साथ यौन संबंध बनाने से है. जिसे “क्लैप” या “ड्रिप” भी कहा जाता है. गोनोरिया बैक्टीरिया आपके शरीर में लिंग, गुदा, योनि या मुंह के माध्यम से प्रवेश करते हैं, अक्सर असुरक्षित यौन संबंध के दौरान यह शरीर में दाखिल होते है.

यदि किसी गर्भवती महिला को सूजाक/ गोनोरिया है, तो यह बच्चे को भी होता है. महिलाओं में, गर्भाशय ग्रीवा सबसे ज्यादा संक्रमित होने वाला अंग है, गर्भाशय ग्रीवा योनि से गर्भाशय तक का द्वार होता है. पुरुषों में, संक्रमण मूत्रमार्ग में शुरू होता है, वह ट्यूब जो मूत्र को शरीर से बाहर निकलने में मदद करती है.

महिलाओं में सूजाक के लक्षण

  1. असामान्य योनि स्राव
  2. पेट के निचले हिस्से या श्रोणि में दर्द
  3. पेशाब करते समय दर्द या जलन
  4. पीरियड्स के बीच ब्लीडिंग
  5. गले में संक्रमण और दर्द (जब मुख मैथुन के कारण संक्रमित हो)

पुरुषों में सूजाक के लक्षण

  1. लिंग से सफेद या पीले रंग का स्त्राव
  2. पेशाब करते समय दर्द या जलन
  3. गले में संक्रमण और दर्द

सूजाक में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की खुराक

CIMS के अनुसार ओफ्लोक्सासिन 400 मिलीग्राम टैबलेट के मौखिक एक खुराक से सुजाक का प्रतिबंधन किया जा सकता है.

इस अध्ययन में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की प्रभवता, सफलता और सुरक्षता को मापा गया जिसमे पाया गया की Ofloxacin Tablet सुजाक के इलाज के लिए अत्यंत प्रभावी और सुरक्षित पर्याय है.

सुजाक के ८८ लोगों को ओफ्लोक्सासिन टैबलेट ४०० मिली ग्राम का एक खुराक दिया गया, इसमें ७४ लोगों को एक दिन बाद माइक्रोबियल संक्रमण से मुक्त पाया गया इसीलिए Ofloxacin Tablet Uses in Hindi सुजाक के लिए एक प्रभावी उपाय है.

Clin Ther. 1991 Jul-Aug;13(4):441-7.

3. निमोनिया

निमोनिया एक फेफड़ो का संक्रमण है जो एक या दोनों फेफड़ों में हो सकता है, इस संक्रमण के कारण फेफड़ों में मौजूद हवा की थैली तरल पदार्थ या मवाद से भर जाती है. जिससे कफ या मवाद के साथ खांसी, बुखार, ठंड लगना और सांस लेने में कठिनाई हो सकती है.

बैक्टीरिया, वायरस और कवक सहित विभिन्न प्रकार के जीव निमोनिया का कारण बन सकते हैं. निमोनिया हॉस्पिटल या समुदाय के कारण भी फ़ैल सकता है.

निमोनिया के लक्षण

निमोनिया के लक्षण हल्के से लेकर गंभीर तक भिन्न-भिन्न हो सकते हैं, जो संक्रमण पैदा करने वाले रोगाणु के प्रकार, और आपकी उम्र और समग्र स्वास्थ्य जैसे कारकों पर निर्भर करते है.

  1. सांस लेने या खांसने पर सीने में दर्द
  2. 65 वर्ष और उससे अधिक उम्र के वयस्कों में भ्रम की स्थिति
  3. गहरा कफ
  4. थकान (और पढ़िए थकान की दवा)
  5. बुखार, पसीना और कंपकंपी
  6. शरीर के सामान्य तापमान से कम
  7. मतली, उल्टी या दस्त
  8. सांस लेने में कठिनाई

अधिक जानकारी के लिए निमोनिया के रामबाण उपचार यह लेख पढ़िए

निमोनिया में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की खुराक और इस्तेमाल

ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 400 मिलीग्राम प्रति 12 घंटा 10 दिनों के लिए यह निमोनिया के लिए प्रभावी खुराक मणि जाती है, लेकिन याद रहे आपको इस खुराक को पुरे १० दिनों के लिए लेना होगा.

दो से तीन दिन में अच्छी राहत मिली इसीलिए आप ओफ्लोक्सासिन टैबलेट को लेना बंद कर देंगे तो संक्रमण फिरसे आ सकता है इसीलिए संक्रमण को पूरी तरह मिटाने के लिए १० दिन का खुराक काफ़ी होता है.

ओफ्लोक्सासिन टैबलेट के क्लिनिकल ट्रायल में ६९ निमोनिया के रोगियों को ओफ्लोक्सासिन टैबलेट ४०० मिलीग्राम प्रति १२ घंटे दिया गया. जिसके परिणाम स्वरूप पाया गया की ६१ से ६४ लोगों को निमोनिया से अच्छी राहत प्रदान हुई हो.

Am J Med. 1991 Sep;91(3):261-6. doi: 10.1016/0002-9343(91)90125-h.

4. प्रोस्टेटाइटिस

प्रोस्टेटाइटिस प्रोस्टेट ग्रंथि की सूजन और सूजन है आम भाष में इसे पुरुषों के अंडकोष की सूजन माना जाता है. जो पुरुषों में सीधे मूत्राशय के नीचे स्थित अंडकोष की ग्रंथि में होती है. प्रोस्टेट ग्रंथि द्रव (वीर्य) का उत्पादन करती है जो शुक्राणु को पोषण और परिवहन करती है.

वैसे तो प्रोस्टेटाइटिस सभी उम्र के पुरुषों को प्रभावित करता है लेकिन 50 या उससे कम उम्र के पुरुषों में यह अधिक आम है. इसके कई कारण हो सकते हैं, कभी-कभी तो कारण की पहचान नहीं होती है. यदि प्रोस्टेटाइटिस एक जीवाणु संक्रमण के कारण होता है, तो इसका आमतौर पर एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज किया जा सकता है.

एंटीबायोटिक दवाओं में शामिल है ओफ्लोक्सासिन टैबलेट, जिफ़ी टैबलेट, अज़िथ्रोमायसिन टैबलेट और अन्य एंटीबायोटिक.

प्रोस्टेटाइटिस के लक्षण

  1. पेशाब करते समय दर्द और जलन
  2. पेशाब करने में कठिनाई
  3. बार-बार पेशाब आना, खासकर रात में
  4. पेशाब में खून
  5. पेट, कमर या पीठ के निचले हिस्से में दर्द
  6. अंडकोश और मलाशय के बीच के क्षेत्र में दर्द
  7. लिंग या अंडकोष में दर्द और बेचैनी
  8. फ्लू जैसे लक्षण (और पढ़िए सर्दी जुकाम की दवा)

प्रोस्टेटाइटिस में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की खुराक और इस्तेमाल

प्रोस्टेटाइटिस के इलाज में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 200 मिलीग्राम दैनिक एक खुराक प्रभावी होती है लेकिन यदि प्रोस्टेटाइटिस गंभीर है तो आपको यही खुराक ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 400 मिलीग्राम दैनिक तक बधाई जा सकती है.

२ से ४ हफ्ताह के समय तक इस खुराक का पालन करना होगा यदि आपको तीव्र और गंभीर प्रोस्टेटाइटिस है तो इसका पालन 4-8 सप्ताह तक करना होगा वैकल्पिक रूप से, ६ सप्ताह के लिए ३०० मिलीग्राम १२ घंटे यह भी इस्तेमालकिया जा सकता है. हालाँकि आपको इसकी चर्चा करने की कोई जरूरत नहीं क्योंकि आपके डॉक्टर आपके लिए प्रभावी खुराक निर्धारित करेंगे.

क्रोनिक बैक्टीरियल प्रोस्टेटाइटिस में, अब तक के क्लिनिकल ट्रायल्स परिणाम बताते हैं कि ओफ़्लॉक्सासिन टैबलेट चिकित्सकीय रूप से अधिक प्रभावी हो सकता है और माइक्रोबायोलॉजिकल रूप से कार्बेनिसिलिन दवा से अधिक प्रभावी हो सकता है.

क्रोनिक बैक्टीरियल प्रोस्टेटाइटिस में, अब तक के क्लिनिकल ट्रायल्स परिणाम बताते हैं कि ओफ़्लॉक्सासिन टैबलेट चिकित्सकीय रूप से अधिक प्रभावी हो सकता है और माइक्रोबायोलॉजिकल रूप से कार्बेनिसिलिन दवा से अधिक प्रभावी हो सकता है।

Am J Med. 1989 Dec 29;87(6C):61S-68S.

5. क्रोनिक ब्रोंकाइटिस

हॉफ्किन मेडिसिन के अनुसार क्रोनिक ब्रोंकाइटिस फेफड़ों के संक्रमण के कारण होने वाली ब्रोंची की लंबी अवधि की सूजन होती है. धूम्रपान करने वालों लोगों में में यह आम है.

ब्रोंची हमारे साँस लेने की की नलिका होती है, ब्रोंकाइटिस में कुंजन और अधिक बलगम उत्पादन और अन्य परिवर्तनों का कारण बनती है. ब्रोंकाइटिस के विभिन्न प्रकार हैं, लेकिन सबसे आम एक्यूट और क्रोनिक हैं.

क्रोनिक ब्रोंकाइटिस के कारण

अन्य संक्रमणों की तरह क्रोनिक ब्रोंकाइटिस वायरस या बैक्टीरिया के कारण नहीं होता है, अधिकांश विशेषज्ञ इस बात से सहमत हैं कि क्रोनिक ब्रोंकाइटिस का मुख्य कारण सिगरेट पीना है.

  1. दमा (और पढ़िए अस्थमा की दवा)
  2. फेफड़ों के निशान
  3. साइनसाइटिस
  4. यक्ष्मा
  5. ऊपरी श्वसन संक्रमण

क्रोनिक ब्रोंकाइटिस के लक्षण

प्रत्येक व्यक्ति के लक्षण थोड़े अलग हो सकते हैं, नीचे क्रोनिक ब्रोंकाइटिस के सबसे आम लक्षण हैं:

  1. खांसी,
  2. बलगम
  3. घरघराहट
  4. सीने में बेचैनी

क्रोनिक ब्रोंकाइटिस में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की खुराक और इस्तेमाल

क्रोनिक ब्रोंकाइटिस में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 400 मिलीग्राम 12 प्रति घंटा 10 दिनों के लिए इस खुराक की सलाह दी जाती है, ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 400 मिलीग्राम एक सक्रिय एंटीबायोटिक होने के कारण जल्दी राहत दिलाता है.

क्रोनिक ब्रोंकाइटिस के क्लिनिकल ट्रायल में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 400 मिलीग्राम ९२ मरीजों को १० से १२ दिनों के लिए दिए गए जिसके परिणाम स्वरूप ८७% मरीजों को प्रभावी राहत प्राप्त हुई.

Scand J Infect Dis Suppl. 1990;68:41-5. 

6. त्वचा और कोमल ऊतकों में संक्रमण

त्वचा और कोमल ऊतक संक्रमण में त्वचा और अंतर्निहित कोमल ऊतकों पर सूक्ष्म जीवाणुओं का संक्रमण शामिल होता है. त्वचा और कोमल ऊतक संक्रमण में की चुनौती यह होती है की उन मामलों को तत्काल ध्यान देने और उपचार की आवश्यकता होती है. अस्पताल में भर्ती होने वाले लगभग 7% से 10% रोगी SSTI से प्रभावित होते हैं, और वे आपातकालीन देखभाल सेटिंग में बहुत आम हैं.

इसमें त्वचा, चमड़े के नीचे के फोड़े, रैश, प्रावरणी और मांसपेशियों के संक्रमण शामिल हैं. जिसमें साधारण सेल्युलाइटिस से लेकर तेजी से प्रगतिशील नेक्रोटाइज़िंग फासिसाइटिस तक नैदानिक ​​प्रस्तुतियों की एक विस्तृत स्पेक्ट्रम शामिल है.

त्वचा और कोमल ऊतकों में संक्रमण में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की खुराक और इस्तेमाल

त्वचा और कोमल ऊतकों के संक्रमण में 400 मिलीग्राम ओफ्लोक्सासिन टैबलेट दिन में दो बार प्रभावशाली होती है.

ओफ़्लॉक्सासिन टैबलेट सेफलेक्सीन टैबलेट की तरह ही प्रभावी और अच्छी तरह सहनीय है. यह विभिन्न प्रकार के बक्टेरिया के कारण त्वचा और त्वचा संरचना संक्रमण के इलाज के लिए एक अच्छा वैकल्पिक एंटीबायोटिक है

Int J Dermatol. 1992 Jun;31(6):443-5.

7. मूत्राशयशोध

मूत्र पथ का संक्रमण (यूटीआई) एक बैक्टीरिया जनित संक्रमण है जो मूत्रपथ के एक हिस्से को संक्रमित करता है। जब यह मूत्र पथ निचले हिस्से को प्रभावित करता है तो इसे सामान्य मूत्राशयशोध (मूत्राशय का संक्रमण) कहा जाता है और जब यह ऊपरी मूत्र पथ को प्रभावित करता है तो इसे वृक्कगोणिकाशोध (गुर्दे का संक्रमण) कहा जाता है.

मूत्राशयशोध के लक्षण

  1. बार बार पेशाब लगना
  2. पेशाब करते समय जलन होना
  3. मूत्र में रक्त (हेमट्यूरिया)
  4. पेट के निचले हिस्से में दबाव महसूस होना
  5. हल्का बुखार (और पढ़िए बुखार की दवा)

मूत्राशयशोध में संक्रमण में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट की खुराक और इस्तेमाल

मूत्राशयशोध के उपचार में ओफ्लोक्सासिन टैबलेट 200 मिलीग्राम का उपयोग किया जा सकता है, एक गोली प्रति 12 घंटे 3 से 7 दिनों के लिए लेनी चाहिए.

3 दिनों के लिए ओफ्लोक्सासिन टैबलेट सिस्टिटिस के लिए प्रभावी उपाय है. साथ में ही लंबे समय तक उपचार बैक्टीरियोलॉजिकल इलाज प्राप्त करने में अधिक प्रभावी है.

https://doi.org/10.1016/j.amjmed.2005.02.005

8. श्रोणि सूजन की बीमारी

श्रोणि सूजन की बीमारी को अंग्रेजी में पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज कहा जाता है. यह एक महिला प्रजनन अंगों का संक्रमण है. जिसमे शामिल है श्रोणि का निचला पेट, फैलोपियन ट्यूब, अंडाशय, गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय शामिल हैं.

ओफ्लोक्सासिन ४०० मिलीग्राम टैबलेट १० से १४ दिनों के लिए प्रति १२ घंटे के लिए अच्छी राहत दिलाता है.

Ofloxacin 200 mg Tablet SUbstitute In Hindi

Ofloxacin 200 mg Tablet SUbstitute In Hindi MRP IN RS
Zanocin 200 Tablet81
Offlix 200mg Tablet49.1
Zenflox 200 Tablet58.9
Oflomac 200 Tablet73.4
Oflox 200 Tablet80.52
ZO 200 Tablet64
OF 200 Tablet82.81
Qmax 200mg Tablet72
Harpoon 200mg Tablet52.25
Ofler 200mg Tablet68.9
Bioff 200mg Tablet56.2
Oflokem 200mg Tablet56.81
Olox 200mg Tablet66.55
Ofloxo Plus 200mg Tablet49.47
Onoff 200mg Tablet68.34
OQ 200mg Tablet62.3
Ofloxacin 200 mg Tablet SUbstitute In Hindi

Ofloxacin 400 mg Tablet SUbstitute In Hindi

Ofloxacin 400 mg Tablet SUbstitute In Hindi MRP In RS
Oflox 400 Tablet292.22
Zenflox 400 Tablet135.15
Oflomac 400 Tablet153.25
Zanocin DS Tablet244.5
ZO 400mg Tablet122.5
Oflin 400 Tablet189.9
OF 400mg Tablet173.6
Oson 400mg Tablet87.8
Oflokem 400mg Tablet115.5
Ronflox 400mg Tablet75.5
Pentis 400mg Tablet84.13
Ofler 400mg Tablet142.24
Onoff 400mg Tablet143.4
Zocin 400mg Tablet89.9
Ofla 400mg Tablet88.08
floxacin 400 mg Tablet SUbstitute In Hindi

Side Effects of Ofloxacin Tablet In Hindi

दवा के इच्छित प्रभावों के अलावा, कुछ दवाओं के सेवन से दुष्प्रभाव हो सकते हैं. हालाकि यह दुष्प्रभाव गंभीर नहीं होते और बिना चिकित्सा के चले जा सकते है लेकिन यदि यह आपको परेशान करते है निश्चित रूप से इसका इलाज करवाए.

ओफ्लोक्सासिन टैबलेट के आम दुष्प्रभाओं में शामिल है:

  1. जी मिचलाना
  2. उल्टी
  3. एलर्जी त्वचा प्रतिक्रिया
  4. एसिडिटी
  5. पेट में दर्द (और पढ़िए पेट दर्द की दवा)
  6. कब्ज
  7. थकावट (और पढ़िए मल्टीविटामिन के फायदे)
  8. दस्त (और पढ़िए दस्त की दवा)
  9. सरदर्द (और पढ़िए सरदर्द की दवा)
  10. चक्कर आना
  11. अनिद्रा

Dosage Of Ofloxacin Tablet In Hindi

DiseaseDosage In Hindi
मूत्रमार्ग का संक्रमणओफ्लोक्सासिन टैबलेट 200 मिलीग्राम हर 12 घंटे 10 दिनों के लिए
प्रमेह या गोनोरियाओफ्लोक्सासिन 400 मिलीग्राम टैबलेट के मौखिक एक खुराक
निमोनियाओफ्लोक्सासिन टैबलेट 400 मिलीग्राम प्रति 12 घंटा 10 दिनों के लिए
प्रोस्टेटाइटिसओफ्लोक्सासिन टैबलेट 200 मिलीग्राम दैनिक एक खुराक प्रभावी होती है
क्रोनिक ब्रोंकाइटिसओफ्लोक्सासिन टैबलेट 400 मिलीग्राम 12 प्रति घंटा 10 दिनों के लिए
त्वचा और कोमल ऊतकों में संक्रमण400 मिलीग्राम ओफ्लोक्सासिन टैबलेट दिन में दो बार
मूत्राशयशोधओफ्लोक्सासिन टैबलेट 200 मिलीग्राम प्रति 12 घंटे 3 से 7 दिनों के लिए
श्रोणि सूजन की बीमारीओफ्लोक्सासिन ४०० मिलीग्राम टैबलेट १० से १४ दिनों के लिए प्रति १२ घंटे के लिए
Dosage Of Ofloxacin Tablet In Hindi

Drug Interaction of Ofloxacin Tablet Uses In Hindi

निचे दी गई दवाइयों के साथ ओफ्लोक्सासिन टैबलेट इंटरेक्शन दिखाती है इसीलिए निचे दी गई दवाइयों के साथ इसका सेवन न करें:

  • Acetaminophen
  • Amiodarone
  • Anisindione
  • Bupropion
  • Metrizamide
  • Mifepristone
  • Saquinavir
  • Vecuronium
  • Warfarin
  • Anti-psychotics
  • Azithromycin
  • Disopyramide
  • Dofetilide
  • Hydroquinidine
  • Ibutilide
  • Quinidine
  • Sotalol
  • Tricyclic Anti-Depressants

FAQs Of Ofloxacin Tablet Uses In Hindi

Ofloxacin Tablet Uses In Hindi

  • मूत्रमार्ग का संक्रमण

  • प्रमेह या गोनोरिया

  • निमोनिया

  • प्रोस्टेटाइटिस

  • क्रोनिक ब्रोंकाइटिस

  • त्वचा और कोमल ऊतकों में संक्रमण

  • मूत्राशयशोध

  • श्रोणि सूजन की बीमारी

  • लोअर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन

  • मध्यकर्णशोथ
  • ओफ्लोक्सासिन टैबलेट कैसे काम करता है ?

    यह बैक्टीरियल टोपोइज़ोमेरेज़ II (डीएनए गाइरेज़) को बांधकर और बाधित करके काम करता है, एक एंजाइम जो सुपरकोल्ड डीएनए को आराम देता है, और टोपोइज़ोमेरेज़ IV, एंजाइम जो प्रतिकृति के बाद जुड़े गुणसूत्रों को अलग करता है.
    ये निरोधात्मक प्रभाव डीएनए प्रतिकृति, प्रतिलेखन और मरम्मत को बाधित करते हैं, जिससे जीवाणु कोशिकाओं में कोशिका विभाजन को रोका जा सकता है.

    क्या ओफ्लोक्सासिन टैबलेट गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान सुरक्षित है?

    गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान ओफ्लोक्सासिन टैबलेट लेने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना अधिक आवश्यक होगा. स्तनपान के दौरान यह दवा दूध से बच्चो में जाने का खतरा भी होता है.

    क्‍या ओफ्लोक्सासिन टैबलेट के कारण दस्‍त हो सकते हैं?

    एंटीबायोटिक के इस्तेमाल से दस्त होना आम बात है इसीलिए घबराने की कोई बात नहीं है ये अपने आप ठीक हो जाते है. लेकिन यदि वे गंभीर होते है तो डॉक्टर से बात करें और इसका इलाज करे.

    ओफ्लोक्सासिन टैबलेट को कैसे स्टोर करें?

    ओफ्लोक्सासिन टैबलेट को सीधे गर्मी और धूप से दूर ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करने की सलाह दी जाती है।  ओफ्लोक्सासिन टैबलेट को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।  प्रशासित होने पर इसके प्रभाव को बनाए रखने के लिए एंटरोक्विनॉल टैबलेट की पैकेजिंग को बरकरार रखा जाना चाहिए।

    तो दोस्तो इसी के साथ आजका हमारा यह ब्लॉग Ofloxacin Tablet Uses in Hindi खतम करते है मुझे उम्मीद है की मैने Ofloxacin Tablet Uses in Hindi से जूडे सारे सवालो के जवाब दिये होंगे, अगर फिर भी आप और कुछ जानना चाहते हो तो कृपया कमेंट करें

    1 COMMENT

    Leave a Reply