azithromycin tablet uses in hindi / azithromycin 500 uses in hindi
azithromycin tablet uses in hindi / azithromycin 500 uses in hindi

azithromycin tablet uses in hindi/azithromycin 500 uses in hindi – एज़िथ्रोमाइसिन का उपयोग अधिक गंभीर प्रकार के संक्रमण को रोकने और इलाज के लिए किया जाता है।  यह एक मैक्रोलाइड-प्रकार एंटीबायोटिक है।  azithromycin tablet बैक्टीरिया के विकास को रोककर काम करता है। यह दवा वायरल संक्रमण (जैसे कि सामान्य जुकाम, फ्लू) के लिए काम नहीं करेगी।  किसी भी एंटीबायोटिक के अनावश्यक उपयोग या दुरुपयोग से इसके प्रभाव में कमी आ सकती है।

एज़िथ्रोमाइसिन गोली की मात्रा – Available Azithromycine Strengths

Azithromycin 250 MG Tablet
Azithromycin 500 MG Tablet
Azithromycin 600 MG Tablet
Azithromycin 500 MG Injection
Azithromycin 1 GM Injection
Azithromycin 2 GM Injection
Available Azithromycine Strengths

azithromycin tablet dosage – एज़िथ्रोमाइसिन की खुराक आपकी समस्या एवं संक्रमण की स्तिथी पर निर्धारित की जाती है, जो हर संक्रमित बिमारी मे अलग अलग होती है एज़िथ्रोमाइसिन की खुराक के बारे मे नीचे अधिक विस्तार मे लिखा गया है।

azithromycin side effects – एज़िथ्रोमाइसिन वैसे तो एकदम सुरक्षित दवा है यदी इसका ईस्तेमाल निर्धारित खुराक में किया जाए, कुछ बिमारीया और दवाईया है जीनके साथ azithromycin tablet का ईस्तेमाल नहीं किया जाना चाहीए, जैसे की आख की खुजली,जलन और डायरिया। azithromycin side effects के बारे में नीचे दिया गया है ध्यान से पढे।

azithromycin tablet in hindi – एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट की जाणकारी

एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट की प्रकृती अँटिबायोटिक
azithromycin tablet uses in hindi त्वचा का संक्रमण, श्वसन तंत्र मे संक्रमण, जणगांग में संक्रमन, अनकोप्लिकेटेड गोनोरीया, समुदाय उपर्जित निमोनिया, टॉन्सिलीटीस, फॅरिंजीटीस – अन्न नलिका रोग।
एज़िथ्रोमाइसिन के दुष्परिणामडायरिया,उलटी,पेट मे गैस बनना,पेट मे दर्द,मतली।
एज़िथ्रोमाइसिन के ऐतिहादमायास्थिनिया ग्रेव्हीस,प्रेग्नेंसी मे दीर्घकाल के लिए azithromycin tablet का ईस्तेमाल न करें।
azithromycin tablet in hindi

एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट के लोकप्रिय ब्रँड – Azithral 500 Tablet, Azax 500 Tablet, Azifast 500 Tablet, Azax 250 Tablet

और पढ़े :- zifi 200 tablet uses in hindi झिफी के उपयोग हिंदी में

azithromycin tablet uses in hindi / azithromycin 500 uses in hindi

azithromycin tablet uses in hindi - azithromycin 500 uses in hindi
azithromycin 500 uses in hindi

एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट का ईस्तेमाल लगभग सभी प्रकार के संक्रमण मे किया जाता है जीसमे शामिल है:

1.समुदाय उपर्जित निमोनिया ( Community Acquired Pneumonia ) 

सामुदायिक-अधिग्रहित निमोनिया (सीएपी) डॉक्टरो द्वारा संबोधित एक सबसे आम संक्रामक रोग है।  यह भारत और अमरिका में एक प्रमुख स्वास्थ्य समस्या है और दुनिया भर में मृत्यु दर और रुग्णता का एक महत्वपूर्ण कारण है।

सामुदायिक-अधिग्रहित निमोनिया (CAP), यह निमोनिया के प्रकार में सबसे आम तीव्र संक्रमणों में से एक है।  इसके मुख्य प्रेरक रोगजनकों मे शामिल है स्ट्रेप्टोकोकस न्यूमोनिया, इन्फ्लूएंजा ए, माइकोप्लाज़्मा न्यूमोनिया और क्लैमाइडोफिला निमोनिया, इसके प्रमुख जोखिम कारक उम्र, धूम्रपान और कोमोबिडिटीज होती हैं।

azithromycin tablet uses in Community Acquired Pneumonia – पेहले दिन azithromycin 500 mg टैबलेट की एक खुराक लेनी है, जीसके बाद 2 से 3 दिन तक azithromycin 250 mg की दैनिक एक खुराक लेनी है। 

2.एक्युट बैक्टरीयल साइनसाइटिस – acute bacterial sinusitis

azithromycin tablet uses in hindi - azithromycin 500 uses in hindi
azithromycin tablet uses in hindi

बंद और भरा हुआ नाक और हमारे गाल की हड्डी, आंखों के पास, या माथे पर दबाव यह एक्युट बैक्टरीयल साइनसाइटिस  के लक्षण होते है।

तीव्र साइनसाइटिस, जिसे तीव्र राइनोसिनिटिस भी कहा जाता है, झिल्ली की एक छोटी अवधि की सूजन है जो आपकी नाक और आसपास के साइनस के लाइन में होती है।  यह आपकी नाक और साइनस से बलगम को निकालने की आपकी क्षमता को बाधित करता है।

एक्यूट साइनसइटिस सबसे अधिक सर्दी के कारण और वायरल संक्रमण के कारण होता है।  हालांकि, यह गैर-संक्रामक कारणों के कारण भी हो सकता है।  अमेरिकन एकेडमी ऑफ ओटोलरीन्गोलॉजी के अनुसार, तीव्र साइनसाइटिस आम है।  यह प्रति वर्ष लगभग 8 वयस्कों में से 1 को प्रभावित करता है।

azithromycin tablet uses in acute bacterial sinusitis – एक्युट बैक्टरीयल साइनसाइटिस के लिए एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट 500 (azithromycin 500) की दैनिक एक खुराक तीन दिन के लिए लेनी पडती है, इसके बाद यदी संक्रमण रेहता है तो azithromycin 250 और दो दिन के लिए लिजीए।

और पढ़े :- Cheston Cold Uses in Hindi चेस्टन कोल्ड टैबलेट हिंदी में

3.श्रोणि सूजन की बीमारी – Pelvic inflammatory disease

पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज (पीआईडी) महिला प्रजनन अंगों का संक्रमण होता है।  श्रोणि यानी की निचले पेट में मौजुद फैलोपियन ट्यूब, अंडाशय, गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय इन अंगो में संक्रमन होना शामिल होता हैं।

अमेरिका के स्वास्थ्य और मानव सेवा विभाग के अनुसार, यह स्थिति संयुक्त राज्य में लगभग 5 प्रतिशत महिलाओं को प्रभावित करती है। इसके अनुसार भारत मे इस बिमारी का दर का अंदाजा हम लगा सकते है।

कई अलग-अलग प्रकार के बैक्टीरिया पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज ​​का कारण बन सकते हैं, जिसमें यह बैक्टीरिया भी शामिल हो सकता है जो यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) गोनोरिया और क्लैमाइडिया का कारण बनता है।

आमतौर पर क्या होता है कि बैक्टीरिया सबसे पहले योनि में प्रवेश करते हैं और संक्रमण का कारण बनते हैं।  समय बीतने के साथ, यह संक्रमण पैल्विक अंगों में स्थानांतरित हो सकता है।

पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज ​​बेहद खतरनाक हो सकता है, यहां तक ​​कि जीवन की किमत भी आपको चुकानी पड सकती है अगर संक्रमण आपके रक्त में फैलता है तो।  

यदि आपको संदेह है कि आपको संक्रमण हो सकता है, तो जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से बात करें। 

पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज के लिए जोखिम कारक

  • 25 साल से कम उम्र में यौन संबंध बनाना
  • कई यौन साथी होने
  • बिना कंडोम के सेक्स करना
  • हाल ही में एक अंतर्गर्भाशयी डिवाइस (IUD) डाला गया
  • श्रोणि सूजन की बीमारी का इतिहास रहा है

azithromycin 500 uses in hindi – Pelvic inflammatory disease: इस बिमारी में एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट 500 (azithromycin 500) की दैनिक एक खुराक दो से तीन दिन के लिए दि जाती है, जीसके बाद अगले सात दिनों के लिए azithromycin 250 की खुराक दि जाती है।

और पढ़े :- सूजन की दवा Trypsin Chymotrypsin Tablet Uses in Hindi

4.श्वसन तंत्र में संक्रमण – Respiratory tract infections

azithromycin tablet uses in hindi - azithromycin 500 uses in hindi
श्वसन तंत्र में संक्रमण – Respiratory tract infections

श्वसन पथ का संक्रमण (RTI) साइनस, गले, वायुमार्ग या फेफड़ों को प्रभावित कर सकते हैं।  अधिकांश आरटीआई बिना इलाज के बेहतर हो जाते हैं, लेकिन कभी-कभी आपको डॉक्टर की आवश्यकता हो सकती है।

श्वसन पथ का संक्रमण के लक्षणों में शामिल हैं:

azithromycin tablet uses in hindi – श्वसन तंत्र में संक्रमण मे एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट 500 (azithromycin 500) की दैनिक एक खुराक दो तीन दिन के लिए दि जाती है।

वैकल्पिक रूप से, पेहले दिन खुराक के रूप में 500 मिलीग्राम और बाद में 2-5 दिनों में 250 मिलीग्राम दैनिक खुराक दि जा सकती है।

5.त्वचा और कोमल ऊतक संक्रमण – Skin and soft tissue infections

azithromycin tablet uses in hindi - azithromycin 500 uses in hindi
azithromycin 500 uses in hindi

Skin & soft tissue infections (SSTI), जिसमें त्वचा, चमड़े के नीचे के ऊतक, प्रावरणी और मांसपेशियों के संक्रमण शामिल हैं, जिसमें नैदानिक ​​प्रस्तुतियों का एक विस्तृत स्पेक्ट्रम शामिल होता है, जिसमें सरल सेल्युलिटिस से लेकर तेजी से प्रगतिशील नेक्रोटाइज़िंग फैस्साइटाइटिस भी शामिल होते हैं।  

18 से 44 साल की उमर के पुरषो मे त्वचा और कोमल ऊतक संक्रमण अधिक मात्रा मे होता है। 59 प्रतिषद से अधिक मेथिसिलिन प्रतिरोधी स्टैफिलोकोकस ऑरियस (MRSA) नामक बॅक्टेरिया इसका कारक होता है। Reference

azithromycin 500 uses in hindi – त्वचा और कोमल ऊतक संक्रमण के इलाज के लिए एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट 500 (azithromycin 500) की दैनिक एक खुराक दो से तीन दिन के लिए दि जाती है।

वैकल्पिक रूप से,पेहले दिन एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट 500 (azithromycin 500) ले और आगे 2 से तीन दिन azithromycin 250 की दैनिक खुराक लेनी चाहीए।

6.अनकोप्लिकेटेड गोनोरीया

नेइसेरिया गोनोरिया नामक बैक्टेरिया से अनकोप्लिकेटेड गोनोरीया होता है,गोनोरिया न केवल सबसे पुराना रोग है, बल्कि अभी भी सबसे ज्यादा यौन संचारित रोगों में से एक है।  अनकोप्लिकेटेड गोनोरीया संक्रमण का निदान कल्चर या गैर-कल्चर टेस्ट का उपयोग करके किया जा सकता है।

अनकोप्लिकेटेड गोनोरीया का उपाय करने के लिए azithromycin 1mg या 2mg इंजेक्शन का एक डोस काफी होता है।

7.टॉन्सिल्लितिस

azithromycin tablet uses in hindi - azithromycin 500 uses in hindi
टॉन्सिल्लितिस -tonsillitis

टॉन्सिलिटिस आपके टॉन्सिल का एक संक्रमण है, आपके गले के पीछे ऊतक के दो द्रव्यमान होते हैं उन्हे टॉन्सिल केहते है।

आपके टॉन्सिल फिल्टर के रूप में कार्य करते हैं, कीटाणुओं को फंसाते हैं जो अन्यथा आपके वायुमार्ग में प्रवेश कर सकते हैं और संक्रमण का कारण बन सकते हैं।  वे संक्रमण से लड़ने के लिए एंटीबॉडी भी बनाते हैं।  लेकिन कभी-कभी, वे बैक्टीरिया या वायरस से संक्रमित हो जाते हैं।  यह उन्हें सूजन और दर्दनाक बना सकता है।

टॉन्सिलिटिस एक आम समस्या है, जो खासकर बच्चों में होती है।  यह एक समय में एक बार हो सकता है या थोड़ी अवधि में बार-बार वापस आ सकती है।

azithromycin tablet uses in hindi – टॉन्सिलिटिस के उपाय मे azithromycin 250 tablet का ईस्तेमाल किया जाता है, दिन मे दो बार लगातार पाच दिन इसका सेवन करणा होता है।

और पढ़े :- monticope tablet uses in hindi – मोंटिकोप टैबलेट के उपयोग

8.अन्न-नलिका का रोग – Pharyngitis

Pharyngitis ग्रसनी की सूजन होती है, जो गले के पीछे होती है।  इसे अक्सर “गले में खराश” के रूप में जाना जाता है।  ग्रसनीशोथ भी गले में खरोंच और निगलने में कठिनाई का कारण बन सकता है।

अमेरिकन ओस्टियोपैथिक एसोसिएशन (एओए) के अनुसार, ग्रसनीशोथ-प्रेरित गले में खराश के पेशन्ट डॉक्टर के पास सबसे ज्यादा आते है।  ग्रसनीशोथ के अधिक मामले वर्ष के ठंडे महीनों के दौरान होते हैं। इसिलिए ठंडे महीनों मे अपना ख्याल रखें।

symptoms of pharyngitis in hindi

(azithromycin tablet uses in hindi) अन्न-नलिका का रोग – Pharyngitis मे azithromycin 250 tablet का ईस्तेमाल किया जाता है, दिन मे दो बार लगातार पाच दिन इसका सेवन करना होता है।

Available medicine of azithromycin tablet in hindi

azithromycin tablet nameMRP in RS
Azithral 500 Tablet119.5
Azicip 500 Tablet71.33
Azee 500 Tablet71.33
Ajee 500mg Tablet64
Neckcin 500mg Tablet64
Aziz 500mg Tablet250
Azax 500 Tablet71.25
Azifast 500 Tablet71.33
Xith 500mg Tablet65.10
Azilide 500 Tablet118.89
Microbact 500 Tablet118.89
Azibact 500 Tablet67.15
Trulimax 500mg Tablet66.50
Azimax 500 Tablet118.20
substitute azithromycin tablet in hindi

azithromycin side effects in hindi – एज़िथ्रोमाइसिन के दुष्प्रभाव हिंदी में

1.असामान्य हृदय ताल – कुछ उपयोगकर्ताओं को असामान्य हृदय ताल की समस्या हो सकती है जीसे QT Prolongation के नाम से जाना जाता है, यदी आपको यह दुष्प्रभाव दिखाई देता है तो कृपया आप डॉक्टर से बात करें।

2.एंटीबायोटिक से संबंधित दस्त-एज़िथ्रोमाइसिन सहित लगभग सभी एंटीबायोटिक्स के साथ दस्त का दूषप्रभाव दिखाई देता है। इसलिए एंटीबायोटिक्स के साथ प्रोबायोटिक्स देते है।

3.जिगर की समस्याएं चेतावनी-दुर्लभ मामलों में, यह दवा यकृत की समस्याओं का कारण बन सकती है।  यदि आपको पहले से ही लीवर की बीमारी है, तो यह आपके लीवर की कार्यप्रणाली को और खराब कर सकता है।

4.मायस्थेनिया ग्रेविस-एज़िथ्रोमाइसिन मायस्थेनिया ग्रेविस के लक्षणों को खराब कर सकता है, इसलिए ऐसे समय Azithromycin Tablet का ईस्तेमाल न करें।

5.एसीडीटी (एसिडिटी की दवा)

6.पेट में गैस बनना

7.उलटी (उलटी की दवा)

Dosage Of Azithromycine Tablet – एज़िथ्रोमाइसिन की खुराक

DiseaseStart DoseFollow Up Dose
समुदाय उपर्जित निमोनिया ( Community Acquired Pneumonia ) azithromycin 500 tablet for 1 to 2 daysazithromycin 250 mg tablet for 2 to 3 days
एक्युट बैक्टरीयल साइनसाइटिस – acute bacterial sinusitisazithromycin 500 tablet for 3 daysif needed azithromycin 250 mg tablet for 2 to 3 days
श्रोणि सूजन की बीमारी – Pelvic inflammatory diseaseazithromycin 500 tablet for 3 days azithromycin 250 mg tablet for 7 days
श्वसन तंत्र में संक्रमण – Respiratory tract infectionsazithromycin 500 tablet for 3 days
त्वचा और कोमल ऊतक संक्रमण – Skin and soft tissue infectionsazithromycin 500 tablet for 1 to 2 days azithromycin 250 mg tablet for 2 to 3 days
Dosage Of Azithromycine Tablet – एज़िथ्रोमाइसिन की खुराक

FAQs Of azithromycin tablet uses in hindi/azithromycin 500 uses in hindi

1.एज़िथ्रोमाइसिन कैसे काम करता है ? How does azithromycin tablet work in hind ?

एज़िथ्रोमाइसिन एक मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक है, जो एज़ेलाइड समूह के अंतर्गत आता है। यह बॅक्टरीया का प्रोटीन बनना बंद कर देता है जीस कारण बॅक्टरीया बिना प्रोटीन से मर जाते है।

2.एज़िथ्रोमाइसिन के ओव्हरडोस में क्या दुष्परिणाम दिखाई देते है? what happens in case of overdose of azithromycin tablet in hindi ?

अतिसार, कान से सुनाई न देना, गंभीर मतली और उल्टी जैसे लक्षण दिखाई देते है। ऐसे में नजदीकि हॉस्पिटल में आवश्यकतानुसार रोगसूचक और सहायक उपाय शुरू करें।

3.एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट को भोजन के पेहले या बाद में लेना चाहीए? Should i take azithromycin tablet before or after food ?

एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट को भोजन के बाद लेने से इसके दूषप्रभाव कम होते है अन्यथा आपको एसीडीटी हो सकती है इसिलिए कइ बार डॉक्टर आपको अँटिबायोटिक के साथ दवा दे सकते है जो एसीडीटी कम करते है।

4.क्या एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट की लत लग सकती है ? is azithromycin 500 tablet cause addiction ?

जी नहीं, एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट से कोई लत नहीं लगती आप जब आहे इसे बंद करा सकते हो।

5.azithromycin tablet uses in hindi / azithromycin 500 uses in hindi

1.समुदाय उपर्जित निमोनिया ( Community Acquired Pneumonia ) 
2.एक्युट बैक्टरीयल साइनसाइटिस – acute bacterial sinusitis
3.श्रोणि सूजन की बीमारी – Pelvic inflammatory disease
4.श्वसन तंत्र में संक्रमण – Respiratory tract infections
5.त्वचा और कोमल ऊतक संक्रमण – Skin and soft tissue infections
6.अनकोप्लिकेटेड गोनोरीया
7.टॉन्सिल्लितिस
8.अन्न-नलिका का रोग – Pharyngitis

6.क्या एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट को खाने के बाद ड्रायविंग कर सकते है?

जी हां, एज़िथ्रोमाइसिन टैबलेट कोई उनिंदापन या निंद नहीं आती इसिलिए इसे खाने के बाद आप गाडी चला सकते है।

7.एज़िथ्रोमाइसिन दवा के और कौनसे व्हेरिएंट है? Varients of azithromycin in hindi

azithromycin tablets ip 500mg
azithromycin tablets ip 250 mg
azithromycin 600 MG Tablet
azithromycin oral suspension ip
azithromycin 500 mg injection
azithromycin 1gm injection
azithromycin 2gm injection

8.एज़िथ्रोमाइसिन दवा के संयोजन क्या होते है? combination of azithromycin in hindi

Cefixime + Azithromycin + Lactobacillus
Azithromycin + Doxycycline
Azithromycin + Metronidazole
Azithromycin + Ofloxacin
Azithromycin + Cefixime
Azithromycin + Amoxicillin
azithromycin + levofloxacin
azithromycin + cefuroxime
azithromycin + ambroxol
azithromycin + cefpodoxime

9.एज़िथ्रोमाइसिन दवा के विकल्प क्या है? substitute of azithromycin in hindi

Neckcin 500mg Tablet, Ajee 500mg Tablet, Azee 500 Tablet, Azicip 500 Tablet, Azithral 500 Tablet

तो उम्मीद है दोसतो आपको आजका आर्टिकल azithromycin tablet uses in hindi/azithromycin 500 uses in hindi पसंद आया होगा, यदी आपको azithromycin tablet in hindi के बारे में कुछ भी सवाल हो तो कृपया हमे कमेंट बॉक्स में पूछे।

Leave a Reply