गर्भावस्था – Pregnancy In Hindi

18
432
गर्भावस्था - Pregnancy In Hindi
गर्भावस्था - Pregnancy In Hindi

गर्भावस्था तब होती है जब ओव्यूलेशन के दौरान अंडाशय से अंडा निकलता है और पुरुष के शुक्राणू को निषेचित करता है। इसके बाद निषेचित अंडा गर्भाशय में चला जाता है, जहां अंडे का आरोपण होता है। यदी यह आरोपण सफल होता है तो इसके परिणामस्वरूप गर्भावस्था होती है।

औसतन, एक पूर्ण गर्भावस्था 40 सप्ताह तक चलती है। लेकीन ऐसे कई कारक होते हैं जो गर्भावस्था को प्रभावित कर सकते हैं।

जिन महिलाओं को प्रारंभिक गर्भावस्था के निदान और प्रसव पूर्व देखभाल प्राप्त होती है, उन्हे स्वस्थ गर्भावस्था का अनुभव होता है और स्वस्थ बच्चे को जन्म देने की अधिक संभावना होती है।

इसिलिए गर्भावस्था का निदान जल्द से जल्द होना चाहीए और पूर्ण आहार और विटामिन्स को लेना चाहीए।

गर्भावस्था के लक्षण – Pregnancy Symptoms In Hindi

  1. मासिक धर्म का न आना
  2. सरदर्द
  3. वजन में वृद्धी
  4. गर्भावस्था से प्रेरित उच्च रक्तचाप
  5. पेट में जलन
  6. दस्त 
  7. पेठ में ऐंठन
  8. पीठ में दर्द
  9. एनेमिया
  10. डिप्रेशन
  11. अनिद्रा
  12. स्तन मे बदलाव
  13. मुँहासे
  14. उल्टी
  15. कूल्हे का दर्द
  16. तनाव

यदी आप गर्भावस्था के लक्षण के बारे में अधिक जानना चाहते हो तो ये लेख पढीए – गर्भावस्था के लक्षण Pregnancy Symptoms In Hindi

Advertisement

गर्भावस्था परीक्षण – Pregnancy tests in hindi

आपके मासिक धर्म के छुटने के पहले दिन के बाद होम प्रेगनेंसी टेस्ट लेना सही होते हैं।  यदि आपको घरेलू गर्भावस्था परीक्षण पर सकारात्मक परिणाम मिलता है, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से मिलने का समय निर्धारित करना चाहिए। गर्भावस्था परीक्षण किट खरीदने के लिए यहा क्लिक करें। Buy Best Pregnancy Kit

गर्भावस्था का आहार Pregnancy Diet In Hindi

स्वस्थ गर्भावस्था के लिए सही आहार का होना अधिक आवश्यक होता है। आपको आहार में प्रति दिन 340 से 450 अतिरिक्त कैलोरी लेनी होगी, याद रहें की ईससे अधिक कैलोरी न ले।

और पढ़े:- unwanted 72 tablet use in hindi – गर्भनिरोधक टैबलेट

गर्भावस्था के आहार में खाद्य पदार्थों के स्वस्थ मिश्रण का लक्ष्य रखें, जिनमें शामिल हैं:

  1. काम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट्स
  2. प्रोटीन
  3. सब्जियां और फल
  4. अनाज और फलियां
  5. स्वस्थ वसा (Healthy Fats)

यदि आप पहले से ही स्वस्थ आहार खाते हैं, तो आपको केवल थोड़े से बदलाव करने होंगे।  गर्भावस्था के दौरान तरल पदार्थ, फाइबर और आयरन युक्त खाद्य पदार्थ विशेष रूप से महत्वपूर्ण होते हैं।

गर्भावस्था की जटिलता – Pregnancy Complications In Hindi

एं गर्भावस्था की जटिलताओं में बच्चे का स्वास्थ्य, माँ का स्वास्थ्य या दोनों शामिल हो सकते हैं।  वे गर्भावस्था या प्रसव के दौरान हो सकते हैं।

Advertisement
Advertisement

और पढ़े:- Dydroboon Tablet Uses in Pregnancy in Hindi – डायड्रोबून टैबलेट के उपयोग

सामान्य गर्भावस्था की जटिलताओं में शामिल हैं:

  1. उच्च रक्तचाप
  2. गर्भावधि मधुमेह
  3. प्राक्गर्भाक्षेपक
  4. अपरिपक्व प्रसूति
  5. गर्भपात

जटिलताओं को जल्दी संबोधित करने से माँ या बच्चे को होने वाले नुकसान को कम किया जा सकता है।  गर्भावस्था की जटिलताओं के इलाज के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

और पढ़े:- Surrogacy Meaning In Hindi – सरोगेसी क्या होती है

FAQs Of Pregnancy In Hindi

1.गर्भावस्था में मुझे कितना वजन बढ़ाना चाहिए?

अधिकांश गर्भवती महिलाओं का वजन १० से १२.५ किग्रा के बीच बढ़ जाता है, सप्ताह २० के बाद अधिकांश वजन होता है। अधिकांश वजन का हिस्सा आपके बच्चे के बढ़ने के कारण होता है।

2.गर्भावस्था में कौन से विटामिन लेने चाहिए?

गर्भावस्था में फोलिक एसिड सप्लिमेंट्स सबसे पेहले लेनी चाहीए क्योंकि यह सुरक्षित और स्वस्थ गर्भावस्था प्रदान करती है।
अपनी हड्डियों और मांसपेशियों को स्वस्थ रखने के लिए, दैनिक विटामिन डी पूरक लेना सबसे अच्छा है।
विटामिन कमी को भरने के लिए Zincovit Tablet या Beplex Forte Tablet ले यह दोनो ही उच्च दर्जा की मल्टिविटामिन है।

Advertisement
3.गर्भावस्था में बुखार आए तो क्या करना चाहीए?

ऐसे में आपके डॉक्टर से सलाह ले और बुखार की दवा Combiflam Tablet, Nicip Plus Tablet या Sumo Tablet का ईस्तेमाल करें।

4.गर्भावस्था में उलटी आए तो क्या करना चाहीए?

ऐसे में आपके डॉक्टर से सलाह ले और उलटी की दवा Rantac 150 Tablet, Pan D Tablet का ईस्तेमाल करें।

5.गर्भावस्था में रक्तस्राव होता है क्या?

जब आपके गर्भाशय में अंडे का रोपण होता है तभि हलका रक्तस्राव होता है, इसके अलावा यदी आपको गर्भावस्था में रक्तस्राव होता है तो आपके डॉक्टर से बात करें और रक्तस्राव को जल्द से जल्द रोखे।

और पढ़े:- Breast Cancer Symptoms In Hindi – ब्रैस्ट कैंसर के लक्षण

और पढ़े:- Evion 400 Uses in Hindi – एवियॉन 400mg कैप्सूल के उपयोग

Advertisement

18 COMMENTS

  1. […] गर्भावस्था और स्तनपान: यह जानने के लिए पर्याप्त विश्वसनीय जानकारी नहीं है की क्या गर्भवती या स्तनपान कराने के दौरान कीमोट्रिप्सिन का उपयोग करना सुरक्षित है या नहीं इसिलिए गर्भावस्था और स्तनपान के वक्त ट्रिप्सिन और कीमोट्रिप्सिन का प्रयोग ना करें. सांस लेने में कठिनाई और सांस लेते समय नाक से आवाज आना. […]

  2. […] गर्भावस्था और स्तनपान करने वाली महिला डिफ्लैजाकोर्ट गोली का ईस्तेमाल नहीं करना चाहीये, यदी आप इसका ईस्तेमाल ऐसी अवस्था में करना चाहते हो तो कृपया अपने डॉक्टर के साथ बात करें। […]

Leave a Reply