Connect with us

दवाइया

anxiety meaning in hindi – एंजायटी क्या हैं ?

anxiety meaning in hindi यह एक मनोचिकित्सक और मानसिक स्वास्थ्य से जुडी बिमारी है, जीसमे रोगी को अधिक चिंता या भय महसुस होता है और यह चिंता दैनिक गतिविधियों में हस्तक्षेप करती है। यह बिमारी मुख्य तौर पर दैनिक जीवन के तनाव के वजह से होती है।
पैनिक अटैक, ऑब्सेसिव-कंपल्सिव डिसऑर्डर और पोस्ट-ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर यह anxiety के उदाहरण है।

anxiety meaning in hindi - एंजायटी क्या हैं ?

anxiety meaning in hindi यह एक मनोचिकित्सक और मानसिक स्वास्थ्य से जुडी बिमारी है, जीसमे रोगी को अधिक चिंता या भय  महसुस होता है और यह चिंता दैनिक गतिविधियों में हस्तक्षेप करती है। यह बिमारी मुख्य तौर पर दैनिक जीवन के  तनाव के वजह से होती है।
पैनिक अटैक, ऑब्सेसिव-कंपल्सिव डिसऑर्डर और पोस्ट-ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर यह anxiety के उदाहरण है।

anxiety meaning in hindi एंजायटी क्या हैं ?

  • anxiety एक स्वाभाविक प्रतिक्रिया है जो शरीर तनाव के प्रति दिखाता है, यह एक डर या आशंका से जुडी होती है जैसे की स्कूल का पहला दिन, नौकरी के लिए इंटरव्यू देने या भाषण देने से अधिकांश लोगों को डर और घबराहट महसूस हो सकती है।
  • लेकिन अगर आपकी anxiety की भावनाएं चरम पर हैं और छह महीने से अधिक समय तक आपके जीवन में हस्तक्षेप कर रहे हैं, तो आपको चिंता anxiety disorder हो सकता है।
  • ऐसें वक्त डॉक्टर से मिलकर इसका हल निकलना उचित होगा।

तो उम्मीद है दोस्तो आपको anxiety meaning in hindi समझ आया होगा, और इसके बारे में अधिक जाणकारी जैसे की  एंग्जाइटी के लक्षण और उपाय को नीचे दिया गया है।

एंग्जाइटी विकार के प्रकार क्या हैं ? Types Of Anxiety In Hindi

एंग्जाइटी कई अलग-अलग विकारों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।  इसमे शामिल है:

1.पैनिक डिसऑर्डर:

यह एक आकस्मिक और तीव्र डर का एक अटैक होता है, जो गंभीर शारीरिक प्रतिक्रियाओं को ट्रिगर करता है। यह एक स्तिथी होती है जीसमे रोगी को खतरा नहीं होणे पर भी खतरा म्हसुस होता है और पैनिक अटैक आता है।
इसमें दिल का दौरा, अपने शरीर का काबू छूट जाना और रोगी की मौत तक हो सकती है।

2.फोबिया:

यह एक अत्यधिक और तर्कहीन भय प्रतिक्रिया होती है, जीसमे रोगी को एक भय का स्रोत होता है।
इस भय के स्रोत को सामने आने पर रोगी डर की गहरी भावना का अनुभव कर सकते हैं, इसमें भय एक निश्चित स्थान, स्थिति या वस्तु का हो सकता है।
बाकी  anxiety disorders से यह इस तरिके से अलग है क्योंकी इसमे आपको भय का स्रोत पता होता है।

3.सोशल एंजायटी डिसऑर्डर:

यह एक सामाजिक चिंता विकार है, जिसे कभी-कभी सामाजिक भय भी कहा जाता है। यह एक प्रकार का anxiety विकार है जो सामाजिक सेटिंग्स में अत्यधिक भय का कारण बनता है।
इस विकार वाले लोगों को लोगों से बात करने, नए लोगों से मिलने और सामाजिक समारोहों में भाग लेने में परेशानी होती है। उन्हें डर लगता है कि लोग उनके बारे में क्या केहते है और उन्हे किस तरह देखते है।
इसमे रोगी को पता होता है की उनकी चिंता तर्कहीन या अनुचित हैं, लेकिन इसे दूर करने के लिए वे खुदको शक्तिहीन महसूस करते हैं।

4.ऑब्सेसिव-कंपल्सिव डिसऑर्डर

यह एक तीव्र मानसिक स्वास्थ्य स्थिति है जो जुनून के कारण होती है और जो बाध्यकारी व्यवहार को जन्म देती है।
उदाहरण दरवाजा बंद है क्या बार बार चेक करना,किसीं खास काम के लिए अपने लकी चार्म को पेहनना आदी…।
इस बिमारीमें रोगीयों को सरल अनुष्ठान या आदतें होती है जो उन्हें अधिक सुरक्षित महसूस कराती हैं।

5.सेपरेशन एंजायटी डिसऑर्डर

अलगाव की anxiety बचपन के विकास का एक सामान्य हिस्सा है।  यह आमतौर पर 8 से 12 महीने के बच्चों में होती है, और आमतौर पर उम्र 2 के आसपास गायब हो जाता है, हालांकि, यह वयस्कों में भी हो सकता है।

6.हेल्थ एंजाईटी:

इसमे रोगी को गंभीर बिमारी होने का आभास होता है और इस वजह से रोगी को डर लगणे लगता है और Anxiety का एहसास होणे लगता है।

इसे illness anxiety भी कहा जाता है और पहले इसे हाइपोकॉन्ड्रिया कहा जाता था। यह स्थिति किसी व्यक्ति की बीमारी के शारीरिक लक्षणों की कल्पना द्वारा चिह्नित है। 

7.पोस्ट-ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर :

अभिघातजन्य तनाव विकार (PTSD) एक मानसिक स्वास्थ्य विकार है जो दर्दनाक घटना के बाद शुरू होता है।  उस घटना में चोट या मृत्यु का वास्तविक या कथित खतरा हो सकता है।

एंग्जाइटी के लक्षण / डिप्रेशन के लक्षण – Symptoms Of Anxiety In Hindi

anxiety meaning in hindi - एंजायटी क्या हैं ?
anxiety meaning in hindi

Anxiety के लक्षण सभी लोगों को अलग-अलग हो सकते है जैसे की एक रोगी को लग सकता है की उसके पेट में तितलीया उड रही है और दुसरे व्यक्ती को लग सकता है उसका दिल घोडे की रफ्तार से दौड रहा है।
Anxiety में आप नियंत्रण से बाहर महसूस कर सकते हैं, जैसे आपके मन और शरीर के बीच एक डिस्कनेक्ट है।
दुसरी ओर जो लोग Anxiety का अनुभव करते हैं उनमें बुरे सपने, घबराहट के दौरे और दर्दनाक विचार या यादें शामिल होती हैं जिन्हें आप नियंत्रित नहीं कर सकते हैं। आपको भय और चिंता की एक सामान्य भावना हो सकती है, या आप किसी विशिष्ट स्थान या घटना से डर सकते हैं।

सामान्य एंग्जाइटी के लक्षणों में शामिल हैं:

दिल की धडकने तेज होनातेजी से साँस लेने लगनाबेचैनीध्यान एक चीज पर केंद्रित करने में परेशानीनिंद नहीं आना

Unienzyme Tablet Uses In Hindi

एंजाईटी का दौरा क्या है? What is anxiety attack in hindi ?

anxiety attack एक भारी आशंका, चिंता, संकट या भय की भावना होती है।  कई लोगों के लिए, एंजाईटी का दौरा धीरे-धीरे बनता है और यह एक तनावपूर्ण घटना के रूप में बदल सकता है।
एंजाईटी का दौरे सभी लोगों में बहुत भिन्न हो सकते हैं, क्योंकि चिंता के कई लक्षण सभी के लिए नहीं होते हैं, और वे समय के साथ बदल सकते हैं।
एंजाईटी के दौरे के सामान्य लक्षणों में शामिल हैं:

  • बेहोशी या चक्कर आना
  • साँस लेने में तकलीफ
  • मूह में सुखापन
  • पसीना आना
  • ठंड लगना या गर्म चमक आनाआ
  • शंका और चिंता
  • बेचैनी
  • संकट
  • डर
  • स्तब्ध हो जाना या झुनझुनी

What causes anxiety in hindi?  क्या एंजाईटी का कारण बनता है?

शोधकर्ता और संशोधक एंजाईटी के सटीक कारण के सुनिश्चित नहीं किए हैं।  लेकिन, इतना स्पष्ट है की anxiety एक कइ कारकों के संयोजन से होती है जीसमे शामिल है, आनुवंशिक और पर्यावरणीय कारक, साथ ही मस्तिष्क रसायन शामिल हैं।
इसके अलावा, शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि डर को नियंत्रित करने के लिए जिम्मेदार मस्तिष्क के क्षेत्र प्रभावित हो सकते हैं।

क्या ऐसे परीक्षण हैं जो एंजाईटी का निदान करते हैं? tests for anxiety in hindi ?

केवल एक ही परीक्षा से हम एंजाईटी का निदान नहीं कर सकते। इसके बजाय, एंजाईटी के लिए शारीरिक परीक्षाओं, मानसिक स्वास्थ्य मूल्यांकन और मनोवैज्ञानिक प्रश्नावली की लंबी प्रक्रिया की आवश्यकता होती है।
कुछ डॉक्टर शारीरिक परीक्षा का आयोजन कर सकते हैं, जिसमें रक्त या मूत्र परीक्षण शामिल होता हैं जो अंतर्निहित चिकित्सा स्थितियों को नियंत्रित करने के लिए हैं जो आपके लक्षणों का अनुभव कर सकते हैं।

anxiety के उपचार क्या हैं? Treatment Of Anxiety Meaning In Hindi

anxiety meaning in hindi - एंजायटी क्या हैं ?
anxiety meaning in hindi

anxiety का उपचार दो श्रेणियों में आता है: मनोचिकित्सा और दवा। एक बार जब आपको anxiety का निदान हो जाता है, तो आप अपने डॉक्टर के साथ उपचार के विकल्प तलाश सकते हैं। 
कुछ लोगों के लिए, चिकित्सा उपचार आवश्यक नहीं होता है।  लक्षणों के साथ सामना करने के लिए जीवन शैली में बदलाव पर्याप्त हो सकते हैं।
हालांकि, मध्यम या गंभीर मामलों में, उपचार आपको लक्षणों को दूर करने में मदद कर सकता है और दिन-प्रतिदिन अधिक प्रबंधनीय जीवन जीने में मदद कर सकता है।

एंजाईटी के उपचार / प्रबंधन  Treatment / Management for Anxiety in Hindi

तीव्र एंजाईटी (Acute anxiety)के उपचार में बेंज़ोडायजेपाइन को ईस्तेमाल किया जाता है और क्रोनिक एंजाईटी उपचार में मनोचिकित्सा, फार्माकोथेरेपी, या दोनों का संयोजन शामिल है। क्रोनिक एंजाईटी उपचार में मनोचिकित्सा, फार्माकोथेरेपी, या दोनों का संयोजन शामिल होता है।

Trypsin Chymotrypsin Tablet Uses in Hindi

Pharmacotherapy For Anxiety Meaning In Hindi

सिलेक्टिव्ह सेरोटोनिन रीअपटेक इनहिबिटर (SSRI),सेरोटोनिन-नॉरपेनेफ्रिन रीअपटेक इनहिबिटर (SNRI),बेंज़ोडायजेपाइन, ट्राइसाइक्लिक एंटीडिप्रेसेंट्स, माइल्ड ट्रैंक्विलाइज़र और बीटा-ब्लॉकर्स एंजाईटी विकारों का इलाज करते हैं।
मनोचिकित्सा: इसमे सबसे प्रभावी रूपों में से एक संज्ञानात्मक-व्यवहार चिकित्सा है। यह चिकित्सा का एक संरचित, लक्ष्य-उन्मुख और उपचारात्मक रूप है, जो लक्षणों को पहचानने और बनाए रखने वाले विशिष्ट दुर्भावनापूर्ण सोच पैटर्न और विश्वासों को पहचानने और संशोधित करने में व्यक्तियों की मदद करने पर केंद्रित है।

थेरेपी का यह रूप व्यवहार कुशलता के निर्माण पर केंद्रित है ताकि रोगी चिंता पैदा करने वाली स्थितियों के लिए अधिक अनुकूल तरीके से व्यवहार और प्रतिक्रिया कर सकें।

निष्कर्षसामान्य तौर पर, Anxiety Diaorders का अब प्रभावी रूप से इलाज किया जा सकता है। इसमे रोगियों को चिकित्सीय विकल्पों के बारे में सूचित किया जाना चाहिए और उपचार योजना में शामिल होना चाहिए। 

शारीरिक गतिविधि जैसे की excercise को बढावा देने से मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति और शारीरिक स्वास्थ्य जटिलताओं के जोखिम और लक्षण कम होते है। इसिलिए व्यायाम / excercise Anxiety Diaorders को रोकने या इलाज करने का एक तरीका हो सकता है।

Zincovit Tablet Uses in Hindi झिंकोवीट के उपयोग

FAQs Of Anxiety Meaning In Hindi

1.एंग्जाइटी को कैसे खतम करें ?

anxiety का उपचार दो श्रेणियों में आता है: मनोचिकित्सा और दवा। 
मनोचिकित्सा में रोगी को मनोचिकित्सक द्वारा समझाया जाता है और उसे एंग्जाइटी पर मात करने काबिल बनाया जाता है।
दवा में रोगी को anxiety के लक्षण बंद करने के लिए दवाईयो पर निर्भर होना पडता है।

2.एंजायटी कौन सी बिमारी है?

एंजायटी एक मनोचिकित्सा और मानसिक स्वास्थ्य से जुडी बिमारी है, जीसके पैनिक अटैक, ऑब्सेसिव-कंपल्सिव डिसऑर्डर और पोस्ट-ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर यह उदाहरण है।

3.डिप्रेशन कितने दिन तक रहता है?

आपका डिप्रेशन कितने समय या दिन तक रहता है, यह जीवनशैली कारकों पर निर्भर करता है जैसे की आपको शीघ्र उपचार प्राप्त होता है या नहीं। वैसे तो यह कई हफ्तों, महीनों या वर्षों तक रह सकता है।

4.घबराहट में क्या खाना चाहीये ?

फैटी मछली जैसे की रावस, 
विटामिन डी
अंडे
कद्दू के बीज
डार्क चॉकलेट
हल्दी
दही
ग्रीन टी

5.एंजाइटी का मतलब क्या होता है?

anxiety एक स्वाभाविक प्रतिक्रिया है जो शरीर तनाव के प्रति दिखाता है, यह एक डर या आशंका से जुडी होती है जैसे की स्कूल का पहला दिन, नौकरी के लिए इंटरव्यू देने या भाषण देने से अधिकांश लोगों को डर और घबराहट महसूस हो सकती है।

6.क्या डिप्रेशन का इलाज संभव है?

जी हां, 100 प्रतिषद संभव है, इसका उपचार मनोचिकित्सा और दवा ऐसी दो श्रेणीयो में किया जाता है, इसके बारे में अपने मनोचिकित्सक से बात करें।

7.डिप्रेशन कितने प्रकार का होता है?

डिप्रेशन के कुल मिलाकर सात प्रकार है:
लगातार अवसादग्रस्तता विकार
दोध्रुवी विकार
मौसमी असरदार विकार (SAD)
साइकोटिक डिप्रेशन
पेरिपार्टम (प्रसवोत्तर) अवसाद
सिचुएशनल ’डिप्रेशन
एटिपिकल डिप्रेशन

8.पैरों में बेचैनी क्यू होती है?

यह भी एक एंजाइटी का लक्षण है,ऐसा तब होता है जब आप किसी तणाव परिस्तिथी में होते है।
इस पर काबू पाने के लिए आपको स्वयं पर विश्वास रखना होगा और आत्मनिर्भर होना होगा।

9.गर्भावस्था में घाबराहट क्यू होती है?

पेहली गर्भावस्था में घाबराहट होना एक सामान्य बात है,इसे हम हेल्थ एंजाईटी की श्रेणी में शामिल कर सकते है क्योंकी इसमे रोगी को गंभीर बिमारी होने का आभास होता है और इस वजह से रोगी को डर लगणे लगता है और Anxiety का एहसास होणे लगता है।

10.मन घबराता है क्या करें?

ऐसें वक्त पर अपने मन पर काबू पाना सिख लें क्योंकी यही लंबी अवधी का जवाब होगा, ऐसें वक्त याद रखें की कोई भी चीज से डरना नहीं चाहीये।

11.घर में मन क्यो नहीं लगता?

इसके अनेक कारण हो सकते है, जैसे की घर में परेशानी, परिवार में झगडे आदी… लेकीन याद रहें, घर में मन लगणे के लिए सब कुछ भुलकर छोटी छोटी चिंजो का आनंद लें जीससे आपका घर में मन लग सकता है।

Continue Reading
Advertisement
9 Comments

Copyright © 2020 ArogyaOnline Team