Cumin Seeds In Hindi
Cumin Seeds In Hindi

Cumin Seeds को Hindi में जीरा केहते है, इसका साइंटिफिक नाम Cuminum cyminum L है। Cumin Seeds एक दिखणे में छोटा और शाकाहारी एवं औषधी पौधा होता है जो अपिकासी (Apiaceae) पौधो के परिवार से संबंधित होता है। आज के लेख “cumin seeds in hindi ” में हम ईसकी संपूर्ण जाणकारी लेने की कोशिष करेंगे।

Cumin Seeds एक बहुउद्देशीय पौधे की प्रजाति है जिसकी खेती अरब देशों, भारत, चीन और कई भूमध्य देशों में की जाती है। जिरे का बीज पुरे विश्व में खाने के पदर्थो में और औषधीय प्रयोजनों के लिए ईस्तेमाल किया जाता है।

हाइपोलेपिडिमिया, कैंसर, मधुमेह, डिप्रेशन से जुड़ा ऊच्च रक्तचाप, खूजली, एंग्जायटी और जोडो के दर्द सहित विभिन्न प्रकार के रोगों के इलाज के लिए जीरा का उपयोग पारंपरिक चिकित्सा में किया जाता है।

और पढ़े : – Chia Seeds In Hindi

जीरा के फायदे और उपयोग (Benefits Of Cumin Seeds In Hindi)

Benefits Of Cumin Seeds In Hindi -  जीरा के फायदे और उपयोग
Benefits Of Cumin Seeds In Hindi

जीरा/Cumin Seeds आयुर्वेदिक एवं पारंपरिक औषधीय प्रणाली में इसका उपयोग सुझाया गया है, ऐसें ही कुछ जीरा के फायदे और उपयोग नीचे दिए गए है:

1.एंटीऑक्सीडेंट का भरपूर स्रोत ( Antioxidant Benefits Of Cumin Seeds In Hindi)

Cumin Seeds/ जीरा के बीज में प्राकृतिक रूप से एंटीऑक्सिडेंट पदार्थ पाए जाते है। जिरा में एपिगेनिन और ल्यूटोलिन नामक एंटीऑक्सिडेंट अधिक मात्रा में पाए जाते है।

एंटीऑक्सिडेंट जीरा कैंसर पैदा करने वाले मुक्त कणों को शरीर से बाहर निकलता है और स्वस्थ कोशिकाओं को बढणे में प्रोत्साहन देता है।
एंटीऑक्सिडेंट आपके शरीर को स्वस्थ और अधिक ऊर्जावान महसूस करने में मदद करते हैं, और यह आपकी त्वचा को वृद्ध दिखने से बचाने में मदद करते हैं।

जिरा के एंटीऑक्सिडेंट गुणधर्म के कई फायदे है जैसे की रक्तचाप सामान्य बनाये रखना, रक्त शर्करा को सामान्य रखना एवं मधुमेह और अर्थीरीटीस में होणे वाले जोडो के दर्द में भी यह उपयोगी होता है।

और पढे: जोडो के दर्द का घरेलू उपाय

2.एंटीकैंसर गुणधर्म से संपूर्ण ( Anticancer Properties Of Cumin Seeds In Hindi )

कैंसर में फ्री रेडीकल्स स्वस्थ कोशिकाओं पर हमला कर उन्हे कैंसर के रूप में परिवर्तित करते है, यह कैंसर की कोशिकाए अन्य स्वस्थ कोशिकाओं को गुणा करती है और कैंसर फैलता है।

कुछ साइंटिफिक प्रयोगों के अनुसार Cumin Seeds कैंसर कोशिकाओं को गुणा करने की क्षमता रखता है।

अध्ययन के लिए, चूहों को जीरा खिलाया गया जीस वजह से चूहों को पेट के कैंसर से सुरक्षितता प्रदान हुई। 

एक अन्य अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि नौ लोकप्रिय जड़ी बूटियों और मसालों में से तुलसी और जीरा सबसे शक्तिशाली एंटीकार्सिनोजेनिक ( Anticancer) पौधे थे।

3. दस्त का इलाज करने में जीरा ( Anti diarrheal Properties Of Cumin Seeds In Hindi )

सदियों से दस्त के इलाज के लिए पारंपरिक चिकित्सा के लिए चिकित्सकों ने जीरे की सिफारिश की है।  जीरे के दस्त में इस लाभ की वजह से पश्चिमी देशो में जीरा अधिक लोकप्रिय होने लगा है। 

जीरे का एक अर्क उन चूहों को दिया गया था जो दस्त का सामना कर रहे थे।  शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष में यह बताया कि Cumin Seeds के अर्क ने उनके लक्षणों को ठीक करने में मदद की।

और पढ़े : – Avil Tablet Uses in Hindi

4.ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में जीरा ( Maintain Blood Sugar With Cumin Seeds)

Benefits Of Cumin Seeds In Hindi -  जीरा के फायदे और उपयोग
Maintain Blood Sugar With Cumin Seeds

एक अध्ययन में जीरा का उपयोग मधुमेह के लिए एक हर्बल दवा के रूप में परीक्षण किया गया था।  अध्ययन के परीक्षण में यह पाया गया की दवा ने मधुमेह वाले लोगों को उनकी स्थिति का प्रबंधन करने में सफलतापूर्वक मदद की।

जीरा तेल एक हाइपोग्लाइसेमिक एजेंट होता है, जीसका मुख्य फायदा यह होता है की रक्त में बढि शुगर को कम करना। कइ अध्ययनो में बतया गया है की Cumin Seeds रोज खाने से आपकी रक्त शर्करा सही मात्रा में बनी रेहती है।

और पढ़े :- मधुमेह में उपयोगी मल्टीविटामिन Zincovit Tablet

5.बैक्टीरिया और पॅरासाइट से बचाव के लिए जीरा ( Antibacterial Properties Of Cumin Seeds In Hindi )

जीरे के बीज से निकाला गया तेल एक प्रभावी लार्विसाइड और एंटीसेप्टिक एजेंट के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। Cumin Seeds का तेल बैक्टीरिया के उपभेदों को भी मारता है जो अन्य एंटीसेप्टिक्स के प्रतिरोधी हैं।

शोधकर्ताओं ने माना कि जीरा हानिकारक बैक्टीरिया को मारने में मदद कर सकता है जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली पर हमला करने की कोशिश कर रहे है। इसलीए यह समझा सकता है कि जीरे का उपयोग सदियों से भोजन में एक संरक्षक के रूप में क्यों किया गया है।

6.जीरा के दाहक विरोधी गुणधर्म ( Anti-Inflammatory Properties Of Cumin Seeds In Hindi)

जीरा बीज में दाहक विरोधी सक्रिय तत्व होते है साथ में एंटीसेप्टिक प्रभाव भी Cumin Seeds पाए जाते है। इसका मतलब अगर आपको दर्द या सूजन है जो अन्य स्थितियों को ट्रिगर करता है, तो आपके आहार में जीरा प्रभाव का मुकाबला कर सकता है।

7.कोलेस्ट्रॉल कम करने में मददगार जीरा ( Cumin Seeds Benefits In Lowering Cholesterol In Hindi Language )

जीरा एक हाइपोलिपिडेमिक एक पदार्थ है जो आपके शरीर को उच्च स्तर के फॅट्स को नियंत्रित करने में मदद करता है, जीरे में हाइपोलिपिडेमिक गुण होते है जो आपके दिल और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।

एक अध्ययन में यह बताया गया है की दही में मिश्रित जीरा पाउडर के एक पूरक आहार से कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद होती है। जो लोग दही में मिश्रित जीरा पाउडर का सेवन करते है तो यह उच्च कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।

और पढ़े : – Sumo Tablet Uses in Hindi

8.वजन घटाने में सहायक जीरा ( Cumin Seeds For Weight Loss In Hindi )

Benefits Of Cumin Seeds In Hindi -  जीरा के फायदे और उपयोग
Cumin Seeds For Weight Loss In Hindi

कई समूह अध्ययनों से पता चला है कि जीरा वजन कम करने में आपकी मदद कर सकता है।  हालाकी, इसमे अधिक शोध की आवश्यकता है, लेकिन इन अध्ययनों के परिणाम आशाजनक हैं।

अध्ययन के लिए अधिक वजन वाली महिलाओं को जीरा पाउडर दिया गया और एक स्वस्थ आहार दिया गया, इससे उनके वजन और महत्वपूर्ण आँकड़ों में सुधार का स्रोत बताया गया।

और पढ़े :- वजन घटाने के लिए Chia Seeds In Hindi

9.याददाश्त को बढ़ाता है जीरा ( Memory Boosting Properties Of Cumin Seeds In Hindi )

जीरा आपके केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को अधिक प्रभावी बनाने के लिए आपके शरीर को मदद कर सकता है। इससे आपको तेज मेमोरी और आपके अंगों पर अधिक नियंत्रण की क्षमता दिला सकता है।

जीरा (Cumin Seeds) पार्किंसंस रोग के इलाज में मदद करने में सक्षम हो सकता है क्योंकि यह शरीर के केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के कार्य में योगदान देता है।

दही जीरा खाने के फायदे -Benefits Of Yogurt & Cumin Seed Powder In Hindi

Benefits Of Cumin Seeds In Hindi -  जीरा के फायदे और उपयोग
दही जीरा खाने के फायदे

“दही जीरा खाने के फायदे” – कई अध्ययनों से पता चला है कि जीरा लोगों को अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।  एक अध्ययन में, दही में जीरे के पाउडर को खाने से “अच्छे” (एचडीएल) कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हुए “खराब” (एलडीएल) कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद की।

और पढ़े : – Alprazolam Tablet Uses in Hindi

कच्चा जीरा खाने के फायदे और नुकसान – Benfits Of Eating Raw Cumin Seeds In Hindi

अगर जिरे को थोडी अधिक मात्रा में खाया जाए तो इसके अनेक फायदे हो सकते है, कच्चे जीरे में पके हुए जिरे से अधिक सारे आवश्यक तेल और अन्य औषधी गुणधर्म होते है। इसलीए कच्चा जीरा खाने के निम्न फायदे हो सकते है:

  • उच्च रक्तचाप को सामान्य रखना
  • वजन कम करने में सक्षम
  • रक्त में शर्करा की मात्रा सामान्य बनाए रखना
  • पचनशक्ती को बढावा देना
  • दस्त से छुटकारा
  • मधुमेह में स्वास्थ बनाए रखना

और पढ़े :- तुलसी के उपयोग और फ़ायदे

भुना हुआ जीरा खाने के फायदे – Benefits Of Roasted Cumin Seeds In Hindi

भुना हुआ जीरा मुख्य रूप से दही या अन्य प्रोबायोटिक के साथ लेना चाहीए क्योंकी भुना हुआ जीरा पेट की समस्याओ पर रामबाण उपाय है।

भुना हुआ जीरा खाने के फायदे:

  • दस्त का रामबाण इलाज
  • पेट की गैस से तुरंत छूटकारा
  • बॉडीबिल्डिंग में फायदेमंद

Cumin seeds water recipe in hindi – जीरा पाणी कैसे बनाए 

Benefits Of Cumin Seeds In Hindi -  जीरा के फायदे और उपयोग
Cumin seeds water recipe in hindi

अपचन के लिए जीरा पानी सबसे आम उपाय में से एक है।  Jeera water कई स्वास्थ्य लाभ दिलाता है जीसमे शामिल है त्वचा और बालों की सुरक्षा एवं सुंदरता को बढावा देना। भारत के केरळ प्रांत में Jeera water का ईस्तेमाल अधिकतम और दैनिक दिनचर्या में  किया जाता है।

Jeera water recipe in hindi

सामग्री

  • 2 कप पानी
  • 1 टीस्पून भुना हुआ जीरा

अनुदेश

  1. एक बडे पैन में पानी लें और उसमे भुना हुआ जीरा डालें।
  2. पाणी आधा होणे तक इसे मध्यम आंच पर उबालें।
  3. पाणी आधा होणे के बाद गैस को बंद करें और पाणी को स्ट्रेन करें।
  4. जीरा को छीलें और पानी का सेवन करें। इसे गर्म या थंडा पिएं।

और पढ़े : – Monticope Tablet Uses in Hindi

Cumin Seeds In –

Hindi – सफेद जीरा, जीरा, सादा जीरा, सदराना जीरा
Marathi – जीरा, पांढरे जिरे
Bengali name – सादजीरा,शाहीजिरे,जीरा
Gujarati name – जिरू, शकनू जिरूम, सादु जिरम
Tamil name – चिराकम, शिरगम
Telugu name – जिलकरी, जिला,कराला
Kannada name – जिरगी
Malayalam name – जिरकम
Arabbain name  – कांमुन,अव्याजा
Farsi name – जीरा ए सफेद

Ayurvedic Medicinal Qualities Of Cumin Seeds In Hindi

गुण (Qualities) – लघु (पचाने के लिए आसान), रुक्शा (सुखा)
रस (स्वाद) – कटु (तीखा)
विपक (पाचन के बाद का स्वाद) – कटु (तीखा)
विऱ्या (शक्ति) – उश्ना (गर्म)
त्रिदोष का प्रभाव – कफवातहरा (कफ और वात को संतुलित करता है लेकीन पित्त को बढ़ाता है)

Properties of cumin seeds in hindi as per Bhojana Kutuhalam

भोजना कुतुहलम के अनुसार सांभर की धारा में वर्णित किया है जीरा (Cumin Seeds) स्वाद में तीखा, शक्ति में गर्म, स्वाद धारणा में सुधार,पाचन अग्नि को उत्तेजित एवं पाचन को बढ़ावा देता है। 

जीरा एक सुगंधित बीज है,जो बुद्धि में सुधार करती है, कफ दोष को कम करती है, उल्टी के इलाज में मदद करती है।  डायरिया, गुल्म, पेट का दर्द, पेट की कोई भी बीमारी, आंतों के कीड़े और दांतों की समस्या।

और पढ़े : – ivermectin tablet uses in hindi

Indications & Doses Of Cumin Seeds In Hindi

आयुर्वेदा के अनुसार जिरे का ईस्तेमाल निम्नलिखित बिमारीयों में किया जाता है:

गुलमा – पेट का ट्यूमर, पेट में फुलाव

अधमना – पेट का फूलना, पेट में गैस

अतीसरा – अतिसार, पेचिश

ग्रहानी – malabsorption syndrome

क्रुमि – कृमि प्रकोप

चारदी – उल्टी

क्षय – जीर्ण श्वसन विकार, जो क्षीणता की ओर ले जाता है

कुष्ट – त्वचा रोगविशा – एकोनिटम फेरॉक्स विषाक्तता

ज्वारा – बुखार (बुखार की गोली – Sumo Tablet और Nicip Plus Tablet)

खुराक / Dosage Of Cumin Seeds In Hindi

खुराक – 3 -6 ग्राम – भोजन के बाद दिन में एक या दो बार।  इसे गर्म पानी या शहद या घी के साथ भी लिया जा सकता है।

जिरे के बारे में रिसर्च क्या कहता है – Scientific Research About Cumin Seeds

जीरा पाउडर के साथ काला नमक के सेवन से खट्टे आम ​​के अतिरिक्त सेवन के दुष्प्रभावों का मुकाबला करने के लिए उपयोगी है।

बुखार में इसका उपयोग गुड़ के साथ-साथ भूख में सुधार, आंत्र को शुद्ध करने और जलन को दूर करने के लिए किया जाता है।

दस्त में दही के साथ जीरे का उपयोग किया जाता है।(दही जीरा खाने के फायदे)

गर्भावस्था के दौरान पित्त दोष उत्पत्ति की उल्टी में नींबू का रस मिलाकर पीने से लाभ होता है।

खुजली को ठीक करने के लिए जीरे के काढ़े से स्नान किया जाता है।

और पढे – खूजली की दवा एवं खूजली के घरेलू नुस्के

Side Effects Of Cumin Seeds in Hindi – जिरे के दुष्प्रभाव

जीरे का व्यापक रूप से उपयोग किए जाने के बावजूद, इसके कुछ संभावित दुष्प्रभाव हैं।  नीचे उनमें से कुछ दिए गए है।

1.सिने में जलन / एसिडिटी

जीरा में गैस से राहत देने वाले गुण होते हैं यह बात सबको पता है, हालांकि, Cumin Seeds सिने में जलन पैदा कर सकते हैं। जीरा जठरांत्र के मार्ग में अधिक गैस के निष्कासन में सहायता करता है जिससे सिने में जलन की समस्या होती है।

और पढे :- सिने में जलन और एसिडिटी की दवा

2.जिगर की क्षति

जीरे के बीज में मौजूद तेल अत्यधिक अस्थिर होता है और इससे अंततः यकृत और / या गुर्दे की क्षति हो सकती है।  यह मुख्य रूप से अधिक मात्रा में बीजों के सेवन के कारण होता है।  इसलिए, Cumin Seeds Hindi का सेवन आप सामान्य मात्रा में करें।

3.निम्न रक्त शर्करा का स्तर

बड़ी मात्रा में जीरा का सेवन करने से शरीर में रक्त शर्करा का स्तर कम हो सकता है।  सर्जरी के पेहले डॉक्टर आपको जिरे का सेवन बंद करणे को केह सकते है।

4.भारी मासिक धर्म चक्र

बड़ी मात्रा में जीरे के सेवन से मासिक धर्म के दौरान भारी रक्तस्राव हो सकता है।  इसलिए आपको इन्हें मध्यम मात्रा में खाना चाहिए।

5.चकत्ते और एलर्जी

जीरा के सेवन से त्वचा पर चकत्ते और एलर्जी भी हो सकती है।  इसलिए स्किन एलर्जी वाले लोगों को जीरा का सेवन कम मात्रा में करना चाहिए।

और पढ़े : – Cheston Cold Tablet Uses in Hindi

6.जिरे का नारकोटिक प्रभाव

जीरे के बीज में मादक गुण होते हैं।  जीरा का सेवन सावधानी के साथ करना चाहिए क्योंकि यह नशीला हो सकता है।  जीरा बीज के अन्य दुष्प्रभाव मानसिक बादल, उनींदापन और मतली हैं।

Cumin Seeds Home Remedies for Tonsillitis In Hindi

सामग्री :

  • 80 ग्राम जीरा
  • छाना हुआ पानी 250 मि.ली.

कृती :

  • 200 मिली पानी कडाई में 15 मिनट तक उबलने दें। पाणी गाढा और काला होना चाहिए।
  • उपर तयार किए गए मिश्रण को छालें और इसमे 50 मिलीलीटर पानी डाले। और फिरसे इस मिश्रण को उबाले।
  • हर 30 मिनट में 1 चम्मच इस मिश्रण को लें। आपको दो घंटों के भीतर राहत महसूस होगी और सभी लक्षण 4 घंटे के भीतर चले जाएंगे।

Beauty Benefits of  Cumin Seeds In Hindi

आप इस घटक को अपने स्किनकेयर और हेयरकेयर रुटीन में शामिल कर सकते हैं।  यह जीरा या जीरा के विभिन्न सौंदर्य लाभ हैं।

1.मुँहासे के इलाज के लिए जीरा – 

बैक्टीरिया मुँहासे का कारण होता है, जीरा में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं इसलिए यह त्वचा पर बैक्टीरिया को मार सकता है।

इसलीए यदि आप अपनी त्वचा पर मुंहासों से परेशान हैं, तो जीरा आपका गो-टू स्किनकेयर घटक होना चाहिए।  

दिन भर में अपने चेहरे को जीरा-संक्रमित पानी से धोने से मुंहासों को दूर रखा जा सकता है और कई अन्य त्वचा संक्रमणों को भी ठीक किया जा सकता है। 

2.ग्लोइंग स्किन के लिए जीरा-

जीरा के फेस पैक बनाने के लिए, एक बाउल में बारीक पिसी हुई हल्दी और 3: 1 के अनुपात में जीरा मिलाएं और एक चिकनी पेस्ट बनाने के लिए शहद की कुछ बूंदें मिलाएं।

इसे अपनी त्वचा पर लगाएं और मास्क सूख जाने के बाद इसे धो लें।  यह मास्क तुरंत आपकी मुलायम और ग्लोइंग स्किन देगा।

और पढे – Health Benefits Of kalonji in marathi

3.बालों के झड़ने का इलाज के लिए जीरा

यदि आप काफी समय से बालों के झड़ने की समस्या से जूझ रहे हो, तो काले जीरे के तेल का उपाय करें इसे निगेला सैटिवा के नाम से भी जाना जाता है।

हेयर पैक बनाने के लिए काले जीरे के तेल को कच्चे अंडे की जर्दी और जैतून का तेल(Olive Oil) बराबर मात्रा में मिलाएं और नहाने के बाद इसे अपने बालों और खोपड़ी पर लगाएं।

यह हेयर ऑयल आपके बालों के विकास को बढ़ावा देगा और बालों के झड़ने का इलाज करेगा।

रूसी dandruff से छुटकारा पाने के लिए जीरा

जीरे का तेल बहुत ही उत्तेजक पदार्थ है इसमे एंटीऑक्सिडेंट की मात्रा भारी मात्रा में होती है,आप इसका ईस्तेमाल विभिन्न बालों के समस्या  में इस्तेमाल किया जा सकता है।

एंटी डैंड्रफ हेयर पैक बनाने के लिए 3 चम्मच जीरे को 2 लीटर पानी में उबालें और ठंडा होने के लिए छोड़ दें।

डैंड्रफ से छुटकारा पाने और अपने बालों को मुलायम और चमकदार बनाने के लिए अपने बालों को धोने और कुल्ला करने के लिए इस जीरा-संक्रमित पानी का उपयोग करें।

FAQs of Cumin Seeds In Hindi

1.is cumin seed good for hair growth? क्या जीरा बालों के विकास के लिए अच्छा है?

हा, जीरा बालों के विकास के लिए अच्छा पर्याय है। इसमे मौजुद भिन्न विटामिन्स और अत्यावश्यक तेल की वजह से बालों का विकास होता है।

2.जीरे का पानी कब पीना चाहिए ?

यदी आप वजन कम करना चाहते हो तो रोज सुबह जीरे का पानी खाली पेट पिना चाहीये, इसके अलावा यदी आपको पेट की समस्या और पेट का गैस हो तो जीरे का पानी लेना चाहीये।

3.जीरे की तासीर गर्म है या ठंडी?

जिरे की तासीर गर्म होती है।

4.जीरा के साइड इफ़ेक्ट क्या होते है ?

सिने में जलन
जिगर की क्षति
निम्न रक्त शर्करा का स्तर
भारी मासिक धर्म चक्र
जिरे का नारकोटिक प्रभाव
चकत्ते और एलर्जी

5.खाना खाने के बाद जीरा खाने से क्या फायदा?

जीरा में पाचन शक्ती को बढावा देणे के गुणधर्म होते है इस वजह से खाना खाने के बाद जीरा खाना चाहीए।

6.जीरा के क्या फायदे?

1.एंटीऑक्सीडेंट का भरपूर स्रोत
2.एंटीकैंसर गुणधर्म से संपूर्ण ( Anticancer Properties Of Cumin Seeds In Hindi )
3. दस्त का इलाज करने में जीरा
4.ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में जीरा
5.बैक्टीरिया और पॅरासाइट से बचाव के लिए जीरा
6.जीरा के दाहक विरोधी गुणधर्म
7.कोलेस्ट्रॉल कम करने में मददगार जीरा
8.वजन घटाने में सहायक जीरा
9.याददाश्त को बढ़ाता है जीरा

7.जीरा कितने प्रकार का होता है ?

जीरा मुख्य रूप से दो प्रकार का होता है, काला जीरा और सफेद जीरा होता है और इसका ईस्तेमाल गरम मसाला बनाने में ईस्तेमाल किया जाता है और कालें जिरे को औषधीय गुणधर्म होता है।

8.शाह जीरा के फायदे ?

शाह जीरा के फायदे निम्नलिखित बिमारीयों में होते है:
दमा
हीचकी
मूत्राशय में दर्द
पेट फुलना

9.जीरा के फायदे पेट के लिए बताओ ?

जीरा पेट के लिए सबसे अच्छा होता है जीसका ईस्तेमाल पेट की गैस, दस्त, पेट फुलना ऐसी समस्याओ में किया जा सकता है।

10.क्या जीरा खाने से पेट कम होता है ?

जीरा वजन कम करने के लिए एक अच्छा उपाय होता है इसको रोज सुबह खाली पेट लेने से आपकी पेट की चरबी और पेट कम हो सकता है।

11.जीरा और शहद के फायदे

जीरा और शहद के नियमित सेवन से आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ती (इम्युनिटी) बढाने में उपयोगी होती है। इसके अलावा नीचे दिए गए फायदे होते है:
शरीर होता है डिटॉक्‍स
कब्‍ज से छूटकारा
कैंसर से बचाव
ब्‍लड प्रेशर को नियमित बनाए
अस्‍थमा कंट्रोल करे
एन‍ीमिया से बचाए

तो उम्मीद है दोस्तो आपको Cumin seeds in hindi की संपूर्ण जाणकारी मिली होगी,यदी आपको इसके अलावा Cumin seeds की कोई जाणकारी चाहीए तो कमेंट करें और पूछे।

8 COMMENTS

Leave a Reply