Enteroquinol Tablet Uses in Hindi एनटेरोक्विनोल के उपयोग

0
1655
Enteroquinol Tablet Uses in Hindi
Enteroquinol Tablet Uses in Hindi
Advertisements

enteroquinol tablet uses in hindi – एनटेरोक्विनोल टैबलेट एंटी फंगल, एंटी अमोईबिक और एंटी बॅक्टरीय वर्ग की दवा है। एनटेरोक्विनोल टैबलेट का मुख्य रूप से उपयोग इंटेस्टाइनल अमीबियासिस और आंत के संक्रमण के उपचार में किया जाता है।

enteroquinol tablet uses – इसके अलावा एनटेरोक्विनोल टैबलेट का उपयोग टीनिया वर्सीकलर, संक्रमन की खुजली और डर्माटोफाइटिस जैसे त्वचा के संक्रमन में भी किया जाता है। 

  1. रूसी
  2. योनि में संक्रमण
  3. जिआर्डियासिस
  4. अन्य परजीवी कृमि संक्रमण
एनटेरोक्विनोल टैबलेट की प्रकृतिएंटी फंगल, एंटी अमोईबिक और एंटी बॅक्टरीय
एनटेरोक्विनोल टैबलेट की सक्रिय सामग्रीएनटेरोक्विनोल
enteroquinol tablet uses in hindiअमीबी प्रवाहिका, त्वचा में संक्रमण, त्वचा में संक्रमण, टीनिया वर्सीकलर, एक्जिमा, दाद/खूजली, एथलीट फुट, सीबमयुक्त त्वचाशोथ
दुष्प्रभावत्वचा के चकत्ते, हरा मल, एसिडिटी, खुजली, एलर्जी, उल्टी, सरदर्द, हरा मल
Enteroquinol Tablet in Hindi

कई बार शरीर में दस्त (Lose Motion) इंटेस्टाइनल अमीबियासिस के संक्रमन के कारण से होते है ऐसे में एनटेरोक्विनोल टैबलेट का उपयोग किया जा सकता है।

Side Effects of Enteroquinol Tablet In Hindi – एनटेरोक्विनोल टैबलेट के आम दुष्प्रभाव में शामिल है उल्टी,त्वचा के चकत्ते (खूजली), विषाक्तता और पेट के विकार।

Advertisement

enteroquinol tablet price – वैसे एनटेरोक्विनोल टैबलेट की किमत है 44.40 रुपये लेकीन यदी आप इसे ऑनलाइन खरीदते है तो यही दवा आपको 30 से 35 रुपये में मिल सकती है।

Enteroquinol Dosage – एनटेरोक्विनोल टैबलेट की खुराक आपकी स्थिती और बिमारी के अनुसार डॉक्टर या फार्मासिस्ट द्वारा की जाती है।

enteroquinol tablet uses in hindi

1.अमीबी प्रवाहिका (Amoebic Dysentery)

Enteroquinol Tablet Uses in Hindi
Enteroquinol Tablet Uses in Hindi

अमीबिक पेचिश प्रोटोजोआ परजीवी एंटाअमीबा हिस्टोलिटिका के कारण होती है। यह उन क्षेत्रों में फैलती है जहां का पाणी भोजन एवं मल के साथ दूषित होता है। इन क्षेत्रों में, डायरिया से पीड़ित 40% लोगों को अमीबिक पेचिश हो सकती है। Reference

अमीबी प्रवाहिका के लक्षण

अधिकांश लोग जो इस परजीवी से संक्रमित हैं, उनमें कोई लक्षण नहीं दिखाई देंगे। लेकीन जो लोग बीमार हो जाते हैं वे हल्के या गंभीर लक्षणों का अनुभव कर सकते हैं।

Advertisement
  1. उल्टी
  2. डायरिया
  3. वजन घटना,
  4. पेट की कोमलता,
  5. पेट में गैस बनना
  6. कभी-कभी बुखार

इसके लक्षण कुछ दिनों से लेकर कुछ महीनों तक दिखाई दे सकते हैं लेकिन आमतौर पर दो से चार सप्ताह के भीतर यह कम हो जाते है।

डॉक्टर के लिए अमीबियासिस का निदान करने का सबसे सामान्य तरीका माइक्रोस्कोप के तहत मल (पूप) की जांच करना होता है।

एनटेरोक्विनोल टैबलेट में मौजुद Quiniodochlor में अच्छी तरह से स्थापित और सिद्ध किया हुए रोगाणुरोधी गुण होते हैं। इसिलिए इसका उपयोग एंटाअमीबा हिस्टोलिटिका के कारण होने वाले अमीबायसिस के उपचार के लिए किया जाता है। 

एंटअमीबा हिस्टोलिटिका के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई के लिए दवा का कोलन में पहूचना अधिक महत्वपूर्ण होता है और एनटेरोक्विनोल टैबलेट अच्छि मात्रा में कोलोन में पहूचता है जीससे यह अधिक प्रभावी होता है। Reference

Advertisement

2.त्वचा में संक्रमण

आपकी त्वचा आपके शरीर का सबसे बड़ा अंग होती है।  इसके कई अलग-अलग कार्य हैं, जिसमें आपके शरीर को ढंकना और उसकी सुरक्षा करना शामिल है।  यह कीटाणुओं को बाहर रखने में मदद करता है। 

लेकिन कभी-कभी कीटाणु त्वचा में संक्रमण का कारण बन सकते हैं।  ऐसा अक्सर तब होता है जब आपकी त्वचा पर कोई दरार, कट या घाव हो जाता है।  

यह तब भी हो सकता है जब किसी अन्य बीमारी या चिकित्सा उपचार के कारण आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है और ऐसे में संक्रमन होता है।

त्वचा में संक्रमण का क्या कारण होते है?

त्वचा में संक्रमण विभिन्न प्रकार के कीटाणुओं के कारण होता है।  उदाहरण के लिए

Advertisement
  1. बैक्टीरिया 
  2. वायरस
  3. फंगी
  4. परजीवी

1.टीनिया वर्सीकलर

Enteroquinol Tablet Uses in Hindi
Enteroquinol Tablet Uses in Hindi

टीनिया वर्सिकलर तब होता है जब मलसेजिया (फंगस) त्वचा की सतह पर तेजी से बढ़ता है। डॉक्टरों को यकीन नहीं है कि ऐसा क्यों होता है। कुछ कारक त्वचा पर इस खमीर के विकास को बढ़ावा दे सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  1. गर्म और आर्द्र मौसम
  2. बहुत ज़्यादा पसीना आना
  3. तेलीय त्वचा
  4. एक कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली
  5. हार्मोनल परिवर्तन

टिनिया वर्सिकलर सभी जातीय पृष्ठभूमि के लोगों में हो सकता है, और यह किशोरों और युवा वयस्कों में अधिक आम है।

यदि वे उपोष्णकटिबंधीय जलवायु वाले क्षेत्र का दौरा करते हैं तो वयस्कों में टिनिया वर्सिकलर विकसित होने की संभावना अधिक होती है।

टिनिया वर्सिकलर के लक्षण?

त्वचा के फीके पड़े धब्बे टिनिया वर्सिकलर का सबसे अधिक ध्यान देने योग्य लक्षण हैं, और ये पैच आमतौर पर बाहों, छाती, गर्दन या पीठ पर दिखाई देते हैं।

Advertisement

एनटेरोक्विनोल टैबलेट का उपयोग टिनिया वर्सिकलर में किया जा सकता है।

2.एक्जिमा

एक्जिमा एक ऐसी स्थिति है जिसमें त्वचा पर पैच में सूजन, खुजली, दरार और खुरदरी हो जाती है। एक्जिमा के कुछ प्रकार फफोले भी पैदा कर सकते हैं।

एटोपिक एक्जिमा की सूजन का जिक्र करते समय बहुत से लोग एक्जिमा शब्द का प्रयोग करते हैं, जो कि सबसे आम प्रकार है।एटोपिक शब्द उन स्थितियों के संग्रह को संदर्भित करता है जिसमें प्रतिरक्षा प्रणाली शामिल होती है, जिसमें एटोपिक डर्माटीस, अस्थमा और हे फीवर शामिल हैं।

एक्जिमा के लक्षण

एटोपिक एक्जिमा के लक्षण हर व्यक्ति की उम्र के आधार पर भिन्न हो सकते हैं जिनमे शामिल है:

Advertisement
  1. सूखी, पपड़ीदार त्वचा
  2. त्वचा निस्तब्धता 
  3. खुजली 
  4. खुले, पपड़ीदार, या फटे हुए घाव

गहरे रंग की त्वचा वाले लोगों में एक्जिमा के कुछ लक्षण अलग होते हैं।

3.दाद/खूजली

दाद को डर्माटोफाइटोसिस (टिनिया) कहा जाता है जो  डर्माटोफाइट्स के संक्रमण कारण होने वाला फंगल संक्रमण होता हैं। Reference

कई प्रजातियां आमतौर पर मानव केराटिन पर आक्रमण करती हैं और इस कारण त्वचा पर संक्रमन होता है।

यह जिवाणू त्वचा पर बाहर की ओर बढ़ते हैं और एक अंगूठी जैसा पैटर्न बनाते हैं – इसलिए इसे ‘दाद’ शब्द कहा जाता है।

Advertisement

दाद और खूजली की दवा या क्रीम के साथ एनटेरोक्विनोल टैबलेट का उपयोग अधिक प्रभावी होता है।

3.एथलीट फुट

इसे टिनिया पेडिस भी कहा जाता है, यह एक संक्रामक कवक है जो पैरों की त्वचा को प्रभावित करता है। यह पैरो के नाखून और हाथों में भी फैल सकता है।  

फंगल संक्रमण को एथलीट फुट कहा जाता है क्योंकि यह आमतौर पर एथलीटों में देखा जाता है। एथलीट फुट गंभीर नहीं है, लेकिन कभी-कभी इसका इलाज मुश्किल होता है।

यदि आपको मधुमेह या कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली है और आपको संदेह है कि आपको एथलीट फुट है, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर को मिलना चाहीए।

Advertisement

एथलीट फुट के जोखिम किसको है?

  1. सार्वजनिक स्थानों पर नंगे पांव जाना, विशेष रूप से लॉकर रूम, शावर और स्विमिंग पूल 
  2. संक्रमित व्यक्ति के साथ मोज़े, जूते या तौलिये साझा करना
  3. बंद पैर के जूते पहनना
  4. अपने पैरों को लंबे समय तक गीला रखना
  5. पसीने से तर पैर
  6. आपके पैर की त्वचा या नाखून में मामूली चोट लगना

4.सीबमयुक्त त्वचाशोथ

Enteroquinol Tablet Uses in Hindi
Enteroquinol Tablet Uses in Hindi

यह त्वचा की एक ऐसी स्थिति जिसके कारण मुख्य रूप से खोपड़ी पर पपड़ीदार धब्बे और लाल त्वचा हो जाती है।यह शरीर के तैलीय क्षेत्रों जैसे चेहरे, छाती के ऊपरी हिस्से और पीठ पर भी हो सकता है।

जब शिशु इस स्थिति को विकसित करते हैं, तो इसे क्रिब कॅप के नाम से जाना जाता है।  यह आम तौर पर जीवन के पहले कुछ हफ्तों के भीतर विकसित होता है और धीरे-धीरे कई हफ्तों या महीनों में गायब हो जाता है।

एनटेरोक्विनोल टैबलेट का उपयोग सीबमयुक्त त्वचाशोथ में भी किया जा सकता है। यह दवाई सीबमयुक्त त्वचाशोथ में अधिक प्रभावी दवा मानी जाती है।

Side Effects of Enteroquinol Tablet In Hindi

विभिन्न दवाएं इंटरेक्शन और शारीरिक प्रतिक्रियाओं के आधार पर अलग-अलग दुष्प्रभाव उत्पन्न कर सकती हैं। एंटरोक्विनॉल सेवन के कई दुष्प्रभाव यहां दिए गए हैं।  

Advertisement

अगर किसी को उनके मामले में कोई साइड इफेक्ट गंभीर लगता है, तो उन्हें तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

एंटरोक्विनॉल टैबलेट के कुछ दुष्प्रभाव बताए गए हैं:

  1. त्वचा के चकत्ते 
  2. हरा मल 
  3. खुजली 
  4. जी मिचलाना 
  5. विषाक्तता 
  6. पेट का विकार 
  7. ऑप्टिक नसों को नुकसान 
  8. कब्ज
  9. सरदर्द
  10. चक्कर आना 
  11. उल्टी 
  12. सिर का चक्कर

Common Dosage of Enteroquinol Tablet In Hindi

एनटेरोक्विनोल टैबलेट की खुराक आपकी स्तिथी और बिमारी और निर्भर करती है। आपके डॉक्टर और फार्मासिस्ट इसके अनुसार आपकी खुराक निर्धारित कर सकते है।

वयस्कों को दी जाने वाली एंटरोक्विनॉल की सामान्य खुराक लगातार कई दिनों तक दिन में 3 गोलियां होती हैं। यदी आपको इस गोली से कोई भी अलग प्रतिक्रिया होती है तो डॉक्टर से जरूर बात करें।

Advertisement

यदी एनटेरोक्विनोल टैबलेट की कोई खुराक छूट जाती है तो क्या करें?

ऐसे में याद आते ही मरीजों को छूटी हुई खुराक लेनी चाहिए।  हालांकि, अगर अगली खुराक का समय नजदीक हो तो पुरानी खुराक को न लें और सिद्धे नई खुराक ले।

एनटेरोक्विनोल टैबलेट की ओव्हरडोस में क्या करें?

एनटेरोक्विनोल टैबलेट की ओव्हरडोस विषाक्तता जैसे गंभीर दुष्प्रभाव दिखा सकती है और इस प्रकार किसी को अधिक खुराक लेने से बचना चाहिए। 

हालांकि, अगर अधिक मात्रा में संदेह है, तो तत्काल चिकित्सा सहायता लेने के लिए डॉक्टर के पास जाना चाहिए।

Enteroquinol Price in India

Enteroquinol 250mg Tablet44.40
Enteroquinol Price in India

Warnings and Precautions Of Enteroquinol Tablet In Hindi

एनटेरोक्विनोल टैबलेट के सेवन से पेहले निम्न बातों का ध्यान रखें:

Advertisement
  1. कुछ चिकित्सीय समस्याएं हो सकती हैं जो किसी व्यक्ति को इस दवा के दुष्प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील बना सकती हैं। 
  2. सलिए, रोगियों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि डॉक्टर के पास रोगी का पूरा मेडिकल रिकॉर्ड हो और साथ ही उन दवाओं की सूची भी है जो वे नियमित रूप से लेते हैं।
  3. चूंकि शराब और एंटरोक्विनॉल के बीच इंटरेक्शन ज्ञात नहीं है, रोगी को दवा की अवधि के दौरान शराब पीने से बचना चाहिए।
  4. एंटरोक्विनोल के सेवन के बाद मरीज को सांस की समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर को सूचित किया जाना चाहिए।
  5. यदि रोगी को एंटरोक्विनॉल के किसी भी घटक से एलर्जी है, तो इन्हे दवा के उपयोग से बचना चाहिए।

Substitutes for Enteroquinol Tablet Uses In Hindi

bstitutes for Enteroquinol TabletMRP In Rs
Entroquine 125mg Tablet50
Vioform 3% Cream75
Enteroquinol Tablet40.40
Aristozyme Cap57
Aristogyl Syrup4.24
Darolac Cap97.4
Cyfolac Cap25
Darolac Powder135
Lomofen Tab43.4
Metrogyl Tab11.63
bstitutes for Enteroquinol Tablet

FAQs Of Enteroquinol Tablet Uses In Hindi

1.क्या Enteroquinol Tablet का उपयोग गर्भावस्था में सुरक्षित है?

नहीं, एंटरोक्विनॉल टैबलेट को एफडीए द्वारा श्रेणी ‘सी’ में वर्गीकृत किया गया है, जिसका अर्थ है कि एंटरोक्विनॉल गर्भवती महिलाओं या गर्भवती होने की योजना बनाने वालों के लिए सुरक्षित नहीं है।

2.एंटरोक्विनॉल टैबलेट को कैसे स्टोर करें?

एंटरोक्विनॉल टैबलेट को सीधे गर्मी और धूप से दूर ठंडी और सूखी जगह पर स्टोर करने की सलाह दी जाती है।  एंटरोक्विनॉल को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।  प्रशासित होने पर इसके प्रभाव को बनाए रखने के लिए एंटरोक्विनॉल टैबलेट की पैकेजिंग को बरकरार रखा जाना चाहिए।

3.कीन बिमारीयों में एंटरोक्विनॉल टैबलेट को नहीं लेना चाहीए?

निम्नलिखित मामलों में एंटरोक्विनॉल का सेवन नहीं करना चाहिए:
गर्भावस्था
स्थनपान
आयोडीन एलर्जी
अतिसक्रिय थायराइड

4.क्या मैं एन्टेरोक्विनोल 250 एमजी टैबलेट के दौरान शराब का सेवन कर सकता हूँ?

हालांकि एंटरोक्विनोल 250 एमजी टैबलेट शराब के साथ कोई इंटरेक्शन नहीं दिखाता है, एंटरोक्विनोल को कभी भी शराब के साथ नहीं लिया जाना चाहिए क्योंकि इससे इसके दुष्प्रभावों का खतरा बढ़ सकता है।

Advertisement
5.क्या एंटरोक्विनॉल टैबलेट शिशुओं या बच्चों को दिया जा सकता है?

नहीं, छोटे बच्चो और शिशुओं के लिए अलग दवाईयों का उपयोग करें। आपके डॉक्टर या फार्मासिस्ट से अधिक जाणकारी ले।

इसिके साथ आज का लेख यही पर खतम करते है लेकीन यदी आपको कुछ भी सलाह चाहीए तो नीचे कमेंट करें। enteroquinol tablet uses in hindi आपको आज का लेख कैसा लगा यह भी आप नीचे बता सकते है।

Leave a Reply