surrogacy meaning in hindi
surrogacy meaning in hindi

Surrogacy Meaning In Hindi – विज्ञान और चिकित्सा के प्रगति ने नए आविष्कार निर्माण किए है उसी का एक उदाहरण मतलब सरोगसी है। आम भाषा में समझाए तो सरोगसी एक परिवार निर्माण का वैज्ञानिक तरिका है। ऐसे जोडे जो कुछ समस्या से सफलतापूर्वक गर्भधारण नहीं कर सकते उन जोड़ों के लिए सरोगसी एक परिवार बढाणे का उपाय है।

Types Of Syrrogacy Meaning In Hindi – सिरोगेसी के प्रकार हिंदी में

1.Gestational Surrogacy Meaning In Hindi (जेस्टेशनल सरोगेसी)

Surrogacy Meaning In Hindi - सरोगेसी क्या होती है
Gestational Surrogacy Meaning In Hindi

जेस्टेशनल सरोगेट वह महिला होती है जो किसी अन्य व्यक्ति के लिए गर्भधारण करने को सहमत होती है। 

इस प्रकार की सरोगेसी में जो महिला बच्चा प्राप्त करना चाहती है उससे डॉक्टर एक अंडा लेते है, जीसमे खुदके आनुवंशिक गुण होते है और फिर पिता से अपने शुक्राणू लिए जाते है और इन दोनो को मिलाकर एक भ्रूण बनाया जाता है।

इस तयार भ्रूण को गर्भावधि वाहक यानी की जेस्टेशनल सरोगेट में स्थानांतरित किया जाता है। ईससे बच्चा पुरी तरह माता और पिता जैसा बनता है लेकीन इसे किसीं और महिला के गर्भ में बडा किया जाता है।

इस तरिके से बच्चे को पैदा करने वाली महिला उसकी जैविक मां होती है लेकीन वह बच्चे की आनुवंशिक मां नहीं होगी।

2.Traditional Surrogacy Meaning In Hindi (ट्रेडिशनल सरोगेसी)

पारंपरिक सरोगेसी या ट्रेडिशनल सरोगेसी में, महिला गर्भवती होने के लिए अपने अंडे का उपयोग करती है, जिसे इच्छित पिता द्वारा निषेचित किया जाता है। इसमे जो महिला सरोगेसी बच्चा चाहती है उसका अंडा नहीं लिया जाता।

इस वजह से ट्रेडिशनल सरोगेसीमें जो सरोगेट मां बच्चे को पैदा करती है वह बच्चे की आनुवंशिक मां होती है और बच्चे की जैविक मां अलग होती है।

आमतौर पर, अंतर्गर्भाशयी गर्भाधान के माध्यम से किया जाता है, लेकिन इसमे विट्रो फर्टिलाइजेशन का भी उपयोग किया जा सकता है, खासकर यदि इच्छित माता-पिता स्थानांतरण से पहले भ्रूण पर आनुवंशिक परीक्षण करना चाहते हैं तो।

तैयार भ्रूण को जैविक मां में स्थलांतरित किया जाता है और ईससे बच्चे को पैदा किया जाता है। ऐसी महिलाए जिनमे कुछ बिमारीयों या किसीं और कारण अंडे नहीं बनते उनके लिए ट्रेडिशनल सरोगेसी एक अच्छा पर्याय होता है।

और पढ़े:- Pregnancy Symptoms in Hindi – गर्भावस्था के लक्षण

सरोगेसी का उपयोग किसे करणा चाहीए?

अमेरिकन सोसाइटी फॉर रिप्रोडक्टिव मेडिसिन का कहना है कि Surrogacy का उपयोग तब किया जा सकता है जब एक स्पष्ट और निश्चित चिकित्सा से यह स्पष्ट हो की इच्छित जोड़े को किसीं कमतरता के कारण बच्चे नहीं हो सकते।

ऐसी कुछ स्थितियों के उदाहरणों में शामिल हैं:

  1. गर्भाशय संबंधी विसंगतियाँ या गर्भाशय की अनुपस्थिति।
  2. ऐसी स्थितियां जो गर्भावस्था में मां या भ्रूण के लिए अधिक जोखिम का कारण बन सकती हैं।
  3. एक बच्चे को जन्म देने में जैविक अक्षमता (जैसे समान-लिंग पुरुष या समान लिंग महिला के जोडे)।

सरोगेट मां को कैसे ढूँढे ? How To Find Surrogate Mother In Hindi?

सरोगेट मदर को खोजने के कई तरीके हैं जैसे की:

दोस्त या परिवार की कोई सदस्य: कभी-कभी आप अपने किसी दोस्त या रिश्तेदार को सरोगेट बनने के लिए कह सकते हैं। हालाकी यह कुछ विवादास्पद है, लेकिन सरोगेसी का खर्चा और लीगल मामलो के कारण, दोस्त या परिवार की कोई सदस्य से सरोगेसी कराना आसान हो सकता है।

अमेरिकन सोसाइटी फॉर रिप्रोडक्टिव मेडिसिन कुछ पारिवारिक संबंधों को सरोगेट्स के लिए स्वीकार्य मानती है।  यह सूनने में थोडा अजीब लग सकता है, लेकीन, क्योंकि बच्चे में करीबी रिश्तेदारों के बीच अनाचार से पैदा हुए बच्चे के समान जीन्स होंगे।

दुसरा पर्याय सरोगेसी एजेंसी : अधिकांश लोग सरोगेट पाने के लिए सरोगेसी एजेंसी का उपयोग करते हैं। यह सरोगेसी एजेंसी आपको सरोगेट माता को धुंडणे में मदद करता है। भारत में अब लगभग 100 से अधिक सरोगेसी एजेंसियां ​​काम कर रही हैं।

और पढ़े:- Breast Cancer Symptoms In Hindi – ब्रैस्ट कैंसर के लक्षण

सरोगेट महिला कैसे चुनें? How to Choose a Surrogate In Hindi ?

सरोगेट महिला चुनते समय नीचे दिए गए कुछ बिंदू याद रखें:

  1. सरोगेट महिला कम से कम 21 साल या उससे अधिक हो।
  2. पहले किसीं स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया हो ताकि वे गर्भावस्था और प्रसव के चिकित्सीय जोखिमों और नवजात शिशु के साथ संबंध के भावनात्मक मुद्दों को पहले से समझ सकें।
  3. जन्म के बाद बच्चे को छोड़ने के साथ किसी भी मुद्दे को उजागर करने के लिए मानसिक स्वास्थ्य पेशेवर द्वारा एक मनोवैज्ञानिक जांच सफल करने वाली महिला चुने।
  4. गर्भावस्था में उनकी भूमिका और जिम्मेदारियों के बारे में एक कॉन्ट्रॅक्ट करें, जैसे कि प्रसव पूर्व देखभाल और जन्म के बाद आपको बच्चा देने के लिए सहमत होना।

Surrogacy Procedure In Hindi – सरोगेसी प्रक्रिया हिंदी में

  1. आमतौर पर एक एजेंसी के माध्यम से या अपने भरोसे से एक सरोगेट चुनें।
  2. एक कानूनी कॉन्ट्रॅक्ट बनाएं और उसकी समीक्षा करें।
  3. इच्छित मां से अंडे प्राप्त करें और इच्छित पिता के शुक्राणु का उपयोग करके भ्रूण बनाएं।
  4. भ्रूण को सरोगेट में स्थानांतरित करें और यदी यह गर्भाशय में चिपक जाता है तो गर्भावस्था हो जाती है।
  5. यदी भ्रूण गर्भाशय में चिपकता नहीं तो फिर से एक नए भ्रूण को सरोगेट में स्थानांतरित करें।
  6. बच्चा पैदा होणे के बाद कानूनी कॉन्ट्रॅक्ट से माता-पिता को बच्चा सौप दें।

और पढ़े :- Health Benefits of Nutmeg in Hindi | Jaifal ke Fayde

Surrogacy Cost In India – भारत में सरोगेसी कितने में होती है ?

सरोगेसी की किमत इस बात पर निर्भर करती है कि आप किस प्रकार और कहां रहते हैं। भारत में सरोगेसी की औसत लागत 10,00,000 रुपये से लेकर 15, 00, 000 रुपये तक हो सकती है।भारत में सरोगेसी किमत में भिन्नता प्रजनन केंद्रों या सरोगेसी क्लीनिकों द्वारा तय किए गए विभिन्न नियमों और विनियमों के कारण होती है।

इसी के साथ आज का लेख Surrogacy Meaning In Hindi यही पर खतम करते है। यदी Surrogacy Meaning In Hindi के बारे में आपको कुछ भी सवाल हो तो हमे कमेंट बॉक्स में पुछे।

Leave a Reply