Skip to content
Home » प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi ऐसी दवाइया है जो आपको प्रोस्टेट की किसमस्याए जैसे की सूजन, संक्रमण, शीघ्रस्खलन, शुक्राणु या अन्य स्वास्थ की समस्याओं का हल करते है।

  • प्रोस्टेट की समस्या को जड़ से खत्म कर देता है
  • पुरुषों में यौन स्वास्थ्य बनाए रखता है
  • बालों को झड़ने से रोकता है
  • मूत्र स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है

यह प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi क्लिनिकल स्ट्रेंथ प्रोस्टेट हेल्थ वनस्पति और पोषक तत्वों का एक संयोजन है जो एक स्वस्थ प्रोस्टेट ग्रंथि का समर्थन करता है।

इस प्रोस्टेट की दवा में वानस्पतिक गुणों में पाल्मेटो एक्सट्रैक्ट, लाइकोपीन और बीटा-सिटोस्टेरॉल की क्षमता होती है जो कि उन लोगों की तुलना में होती है जिनका उपयोग नैदानिक ​​में किया गया है।

Now Foods, Prostate Health सेलेनियम और विटामिन डी -3 के साथ अतिरिक्त पोषण संबंधी सहायता प्रदान करता है, जो इष्टतम प्रोस्टेट समारोह में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए जाने जाते हैं।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi की सक्रीय सामग्री

विटामिन डी ३10 mcg
ज़िंक15 mg
सेलेनियम70 mcg
क्रकच ताल320 mg
फाइटोस्टेरॉल850 mg
बिच्छू घास240 mg
क्वेरसेटिन200 mg
हल्दी100 mg
कद्दू के बीज1 g
प्राकृतिक टमाटर का अर्क10 mg
ग्रीन टी एक्सट्रैक्ट100 mg
अनार का अर्क100 mg
प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi की सक्रीय सामग्री

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi के प्रमुख लाभ

  • यह एक प्राकृतिक और आयुर्वेदिक प्रोस्टेट सप्लीमेंट है और यौन स्वास्थ्य का समर्थन करता है
  • सॉ पाल्मेटो 5-अल्फा-रिडक्टेस को अवरुद्ध करने का समर्थन करता है, एंजाइम जो टेस्टोस्टेरोन को डीएचटी में परिवर्तित करता है
  • पुरुषों और महिलाओं में बालों के झड़ने का कारण DHT है, इसलिए ये कैप्सूल बालों के झड़ने को रोकते हैं
  • यह सौम्य प्रोस्टेट हाइपरप्लासिया या बीपीएच (बढ़ी हुई प्रोस्टेट ग्रंथि) में इंगित किया गया है, जो बार-बार पेशाब आने का कारण बन सकता है

प्रोस्टेट की रामबाण दवा के सामान्य दुष्प्रभाव

वैसे तो यह प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi १०० प्रतिशद सुरक्षित दवा है लेकिन इसके गलत इस्तेमाल से आपको कुछ सामन्य दुष्प्रभाव हो सकते है जिनमे शामिल है :

प्रोस्टेट की रामबाण दवा की चेतावनी

  • सावधानी: यह प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi केवल वयस्कों के लिए है। यदि आपको कोई चिकित्सीय स्थिति है तो चिकित्सक से परामर्श लें।
  • इस दवा के साथ किसी भी प्रकार के शराब का सेवनं करें।
  • यदि आप कोई और आयुर्वेदिक या होम्योपैथिक दवा का इस्तेमाल कर रहे है तो वो बंद करे।
  • इस उत्पाद में प्राकृतिक रंग भिन्नता हो सकती है।
  • किडनी या लिव्हर के रोगी इसका सेवन न करें।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi को कैसे स्टोअर करें

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi को सीधे सूर्यप्रकाश से दूर और नमी से दूर, कमरे के तापमान पर रखें। इसके अलावा इस दवा को आने घर के बच्चे और पालतू जानवरों से दूर रखे।

दवाई की एक्सपायरी होने पर इसका इस्तेमाल न करें। इससे आपको दुष्प्रभाव हो सकते है।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi क्या है?

Now Food Prostate Tablet प्रोस्टेट की दवाइया है जो आपको प्रोस्टेट की किसमस्याए जैसे की सूजन, संक्रमण, शीघ्रस्खलन, शुक्राणु या अन्य स्वास्थ की समस्याओं का हल करते है।

दवा की खुराक कितनी है?

इस दवा की खुराक दिन में दो बार खाने के बाद लेनी चाहिए। इसके अलावा आप इसे आप डॉक्टर की सलाह से आपको खुराक निर्धारित करें।

प्रोस्टेट नार्मल कितना होना चाहिए?

एक स्वस्थ वयस्क प्रोस्टेट का वजन लगभग 20 से 25 ग्राम होता है और यह लगभग 4 सेमी चौड़ा, 3 सेमी ऊंचा और 2 सेमी मोटा होता है।

प्रोस्टेट क्यों बढ़ता है?

प्रोस्टेट बढ़ने का कारण अज्ञात है, लेकिन यह माना जाता है कि यह हार्मोनल परिवर्तनों से जुड़ा हुआ है क्योंकि एक आदमी बूढ़ा हो जाता है। जैसे-जैसे आप बड़े होते हैं आपके शरीर में हार्मोन का संतुलन बदलता है और इससे आपकी प्रोस्टेट ग्रंथि बढ़ सकती है।

प्रोस्टेट में क्या खाना चाहिए?

टोमेटो, ब्रोकली, ग्रीन टी, सोयाबीन, अनार ज्यूस, मच्छी जैसे खाद्य पदार्थों का इस्तेमाल करें।

प्रोस्टेट में क्या तकलीफ होती है?

प्रोस्टेट केवल पुरुषों के शरीर में ही पाई जाती है। यह उम्र बढ़ने के साथ आकार में बड़ी हो जाने से पेशाब करने में तकलीफ होती है। यह तकलीफ आमतौर पर 60 साल के पश्चात् अर्थात् बड़ी उम्र के पुरुषों में ही पाई जाती है।

जिन खाद्य पदार्थों में आवश्यक यौगिक होते हैं वे आपके प्रोस्टेट को स्वस्थ रखने और प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकते हैं। फिर भी, शोधकर्ताओं को यह जानने के लिए कई और अध्ययन करने की आवश्यकता है कि आहार प्रोस्टेट स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है।

Leave a Reply